Monday, October 3, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeBihar Newsदिल्ली पहुंचे डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव, लालू यादव और राहुल गांधी से...

दिल्ली पहुंचे डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव, लालू यादव और राहुल गांधी से लेंगे राय

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में नई महागठबंधन सरकार के गठन के बाद उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव गुरुवार को पटना से दिल्ली पहुंचे। वे अपने पिता व राजद सुप्रीमो लालू यादव और कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे। इस दौरान वे नीतीश मंत्रिमंडल के विस्तार पर विचार-विमर्श करेंगे।

पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों से चर्चा में तेजस्वी यादव ने कहा कि महागठबंधन सरकार के मंत्रिमंडल का जल्द ही विस्तार होगा। दिल्ली में वे पिता लालू यादव के साथ राजद कोटे के मंत्रियों के नामों पर विचार करेंगे। तेजस्वी ने कहा कि दिल्ली में कई विपक्षी दलों के नेताओं से मुलाकात भी होगी, जिन्होंने उन्हें डिप्टी सीएम बनने पर बधाई दी है। उनका राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भी मुलाकात का कार्यक्रम है।

राजद सुप्रीमो लालू यादव दिल्ली के एम्स में इलाज के बाद बड़ी बेटी मीसा भारती के निवास पर रहे रहे हैं। स्वास्थ्य नरम होने से लालू यादव फिलहाल बिहार नहीं जा रहे हैं। इसीलिए वे तेजस्वी यादव के शपथ समारोह में भी शामिल नहीं हो सके थे। अभी नई नीतीश सरकार को बिहार विधानसभा में बहुमत साबित करना है।

माना जा रहा है कि इसके बाद ही मंत्रिमंडल विस्तार होगा, लेकिन मंत्री पद की होड़ शुरू हो गई है। मंत्री पद चाहने वाले विधायक दावेदारी पेश करने के लिए कई तरह के जतन कर रहे हैं। कांग्रेस विधायकों में भी मंत्री बनने की होड़ शुरू हो गई है। तेजस्वी यादव दिल्ली में लालू यादव व राहुल गांधी के साथ इस पर विचार करेंगे।

बिहार के कांग्रेस विधायक नई नीतीश-तेजस्वी सरकार में मंत्री बनने के लिए पार्टी आलाकमान को पत्र लिख रहे हैं। इसके लिए यादव कोटा, अल्पसंख्यक कोटा आदि के आधार पर समर्थन मांगा जा रहा है। खगड़िया के विधायक छत्रपति यादव ने सोनिया गांधी से मंत्री बनाने की गुहार लगाई है। पार्टी के बिहार प्रभारी भक्तचरण दास ने भी गत दिवस तेजस्वी यादव से मुलाकात कर कांग्रेस के मंत्रियों की संख्या और नामों पर चर्चा की।

राहुल गांधी के साथ तेजस्वी यादव की मुलाकात बहुत अहम मानी जा रही है, क्योंकि बिहार में गठबंधन पलट के साथ ही राष्ट्रीय राजनीति में भी विपक्षी एकजुटता की दिशा में कदम बढ़ाने पर विचार हो सकता है। मंगलवार को एनडीए व भाजपा से नाता तोड़ने के बाद बुधवार को नीतीश कुमार ने फिर अपने पुराने महागठबंधन से हाथ मिला लिया है। बिहार के महागठबंधन में जदयू, राजद, कांग्रेस व वाम दल शामिल हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments