Saturday, January 22, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttarakhand NewsHaridwarआफत की बारिश: पानी के तेज बहाव के चलते तटबंध टूटा, फसलें...

आफत की बारिश: पानी के तेज बहाव के चलते तटबंध टूटा, फसलें जलमग्न

- Advertisement -
  • तटबंध के क्षतिग्रस्त होने से खतरा और बढ़ा, प्रशासन का रिस्क्यू कार्य जोरों पर

जनवाणी संवाददाता |

हरिद्वार: मानसून की शुरूआती बारिश ने खासी मुसीबतें खड़ी कर दी हैं। गंगा व अन्य नदियों उफान पर हैं। हरिद्वार की लक्सर तहसील में हालात ठीक नहीं कहे जा सकते हैं। पानी के तेज बहाव के चलते यहां एक तटबंध जवाब दे गया। तटबंध के क्षतिग्रस्त होने से खतरा और भी बढ़ गया है। फसलों ने तो जल-समाधि ली ली है।

प्रशासन का रिस्क्यू कार्य जोरों पर चल रहा है। उधर, लालढांग क्षेत्र में भी फसलें जलमग्न हो गयी हैं।हरिद्वार में लक्सर तहसील के शेरपुर बेला गांव में बाण गंगा नदी पर बना तटबंध क्षतिग्रस्त हो गया। इससे कई गांवोें में खतरा बढ़ गया है। सूचना पर एसडीएम शैलेंद्र सिंह नेगी ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों की टीम के साथ मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।

एसडीएम शैलेंद्र सिंह नेगी नेे बताया कि तटबंध क्षतिग्रस्त होने की सूचना मिलते ही ग्रामीणों को सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया है। शेरपुर बेला गांव में सिंचाई विभाग का तटबंध क्षतिग्रस्त होने से शेरपुर बेला, चंदपुरी बांगर, चंदपुरी खादर, माडा बेला इत्यादि गांवों में खतरा मंडरा रहा है।

जगह-जगह जलभराव होने से आवाजाही में भी दिक्कतें हो रही हैं। डुमरी गांव में बालावाली रोड पर जलभराव होने के कारण यातायात प्रभावित हो रखा है। यहां ट्रैक्टर-ट्रॉलियां के जरिये लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेजा जा रहा है। उधर, लालढांग में बारिश के चलते फसलों के जलमग्न होने की खबरें हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments