Monday, November 29, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatकृषि कानून के विरोध में किसानों ने हाइवे पर जाम लगाया

कृषि कानून के विरोध में किसानों ने हाइवे पर जाम लगाया

- Advertisement -
  • किसानों व पुलिस में जमकर नोकझोंक, जाम लगने से कई किलोमीटर लंबी लगी लाइन

जनवाणी संवाददाता |

खेकड़ा: नए कृषि कानून के विरोध में गाजीपुर बार्डर पर धरना दे रहे किसानों के लिए खाना लेकर जा रहे भाकियू कार्यकर्ताओं को प्रशासन ने ईस्टर्न पेरिफेरवल हाइवे पर रोक दिया, जिससे गुस्साए किसानों ने दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर जाम लगा दिया।

इसके साथ ही हाइवे पर ही धरना शुरू कर दिया और पुलिस के साथ जमकर नोकझोंक हुई। बाद में अधिकारियों के समझाने के बाद किसान शांत हुए और अपना धरना खत्म कर बस से रवाना होगा। धरना खत्म होने के बाद ही वाहनों का आवागमन शुरू हो सका। जाम लगने के कारण वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

नए कृषि कानून के विरोध में भाकियू कार्यकर्ता गाजीपुर बार्डर पर धरना दे रहे है। भाकियू कार्यकर्ताओं का कहना है कि वह बुधवार को उनके लिए खाना लेकर जा रहे थे, लेकिन प्रशासन ने उन्हें दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर डूंडाहेड़ा चेकपोस्ट व ईस्टर्न पेरिफेरवल हाइवे पर ही रोक दिया, जिससे गुस्साए किसानों ने पहले डूंडाहेड़ा चेकपोस्ट पर जाम लगा दिया।

प्रशासन की मान मनोव्वल के बाद उन्होंने वहां से जाम हटा दिया। वहां से ईपीई के पास पहुंचकर हाइवे को एक तरफ से जाम कर धरना शुरू कर दिया। धरना शुरू होते ही हाइवे पर कई किलोमीटर लम्बा जाम लग गया। ईपीई से लेकर डूंडाहेड़ा तक वाहनों की लंबी कतार लग गई।

प्रशासन किसानों को मनाने का प्रयास करता रहा, लेकिन किसान जाने की जिद पर अड़े रहे। किसानों का कहना था कि वह नए कृषि कानून के विरोध में धरना दे रहे किसानों को खाना देने के लिए जा रहे थे। शासन की शह पर प्रशासन द्वारा उन्हें रास्ते मे ही रोक दिया गया, लेकिन किसान इस आंदोलन को कमजोर नहीं पड़ने देंगे।

वहां मौजूद किसान अगर भूखे रहेंगे तो इसकी जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी। उन्होंने कहा कि जब तक नया कृषि कानून सरकार द्वारा रद्द नहीं किया जाता किसान भूखे पेट भी इस लड़ाई को लड़ते रहेंगे। किसान अपने हक की लड़ाई अंतिम सांस तक लड़ेंगे, लेकिन कदम पीछे नहीं हटाएंगे।

देर शाम भाकियू कार्यकर्ताओं ने धरना खत्म कर जाम खोल दिया था। जाम लगाने वालों में रजेन्द्र चौधरी, बिजेंद्र प्रधान, मनोज प्रधान, महेश, रणधीर, दिनेश, बाबुराम, देवी सिंह, पप्पू, संदीप, कर्णपाल, देवेंद्र, काला, गुड्डू, पंकज, देवी सिंह पवार खाप, राजेंद्र, कृष्णपाल, बिजेंद्र प्रधान, मोनू पंवार, प्रमोद प्रधान, बुधु, चीकू, सुधीर आदि मौजूद रहे।

किसानों ने चने खाकर मिटाई भूख

पेरिफेरवल हाइवे के पास हाइवे पर जाम लगाकर धरना दे रहे किसान भूखे पेट बैठे रहे। किसानों ने जब शाम को धरना खत्म कर जाम खुलवाया, जिसके बाद भूखे किसानों ने चने खाकर भूख मिटाई। यहीं नहीं किसानों ने वहां मौजूद पुलिस कर्मियों को भी चने खिलाए।

ट्रैक्टर रोके तो गाड़ियों में बैठकर रवाना हो गए भाकियू कार्यकर्ता

बुधवार को किसानों के लिए खाना लेकर गाजीपुर बार्डर जा रहे भाकियू कार्यकर्ताओं के ट्रैक्टरों को प्रशासन ने दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर ईपीई के पास रोक दिया। जिसके बाद किसानों ने धरना शुरू कर दिया। शाम को किसानों की गाड़ियां वहां पहुंची तो किसान ट्रेक्टर छोड़कर गाड़ियों में बैठकर उन्ही में सामान रखकर गाजीपुर बार्डर के लिए रवाना हो गए।

प्रशासन ने ईपीई पर डेरा जमाया

किसानों के जाने के बाद भी प्रशासन ने ईपीई के पास ही डेरा जमा लिया। देर रात तक भी प्रशासन किसानों के आने की आशंका के चलते वही पर डेरा जमाए रहा।

कई किलोमीटर लंबा लगा जाम

ईपीई के पास भाकियू कार्यकर्ताओं द्वारा बुधवार को दिल्ली यमनोत्री हाइवे पर धरना देकर जाम लगाने पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया। धरना खत्म होने के वाद स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत कर जाम खुलवाया। प्रशासन द्वारा जाम खुलवाने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई, जिससे वाहन चालकों में काफी आक्रोश रहा।

दिल्ली में सब्जियां व खाना लेकर रवाना हुए किसान

चांदीनगर: चांदीनगर क्षेत्र के मंसूरपुर, ललियाना, लहचौड़ा, ढिकौली आदि गावों के किसान उनकी सेवा में लगे है और रोजाना ट्रेक्टर ट्राली में खाने पीने के समान से लेकर सब्जियां तक किसानों तक पहुंचायी जहा रही है। मंसुरपुर गांव के किसान ओमबीर, कृष्णपाल, मनोज हुड्डा, नंदू, बिटटू, सोनू आदि रोजना किसानों की सेवा में लगे है। उन्होंने कहा की जब तक किसान आन्दोलन कर रहे है। उनके खान पान में कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। इस मौके पर सोनू, राहुल, विनित, मीकेश, सतबीर आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments