Thursday, October 28, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliकृषि कानूनों के विरोध में तहसील के बाहर किसानों का धरना

कृषि कानूनों के विरोध में तहसील के बाहर किसानों का धरना

- Advertisement -
  • चार सूत्रीय मांगों को लेकर राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

जनवाणी ब्यूरो |

ऊन: केंद्र सरकार के द्वारा पारित कृषि कानूनों के विरोध में तहसील कार्यालय के बाहर किसानों ने धरना प्रदर्शन किया। पुलिस प्रशासन द्वारा किसानों को तहसील के अंदर घुसने नहीं दिया गया। जिसके बाद किसान गेट के बाहर ही धरने पर बैठ गए बाद में अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपा।

गुरूवार को केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों ने तहसील कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों ने तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन करने की अनुमति मांगी लेकिन उप जिलाधिकारी ने तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी। जिसके बाद किसान तहसील कार्यालय से बाहर ही मैदान में धरने पर बैठ गए।

किसानों ने दिल्ली में धरना देते हुए शहीद हुए किसानों की याद में 2 मिनट का मौन भी धारण किया। किसानों ने उप जिलाधिकारी मणि अरोरा को चार सूत्रीय मांग पत्र सौंपा। जिसमें बिजली की दरों को घटाए जाने, समय से गन्ना का भुगतान कराने, किसानों को गन्ना मूल्य 400 प्रति कुंतल दिलाने तथा आवारा घूम रहे पशुओं को गौशाला में भिजवाने आदि मांगें शामिल है।

ज्ञापन देने वालों में मोनू चिकारा, रवि सिरोही, कंवरपाल, नीरज, ओम प्रकाश, राजवीर सिंह, राजेंद्र, राहुल, यशपाल, उग्र सिंह, राज सिंह, जनेश्वर, जसवीर, नितिन शर्मा आदि सैकड़ों किसान सम्मिलित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments