Monday, May 29, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsपूर्व की सरकारों ने निषाद समाज को वोट बैंक समझा: डॉ संजय...

पूर्व की सरकारों ने निषाद समाज को वोट बैंक समझा: डॉ संजय निषाद

- Advertisement -
  • हक-हकूक की बात करने पर होते थे कसरवल जैसे कांड: डॉ संजय निषाद

  • कसरवल और लखनऊ में मिलने के नाम पर गोली और लाठी चार्ज करवाती थी पूर्व सरकारे: संजय निषाद

  • मछुआ समाज के सर्वागीण विकास के।लिए कटिबद्ध है प्रदेश और केंद्र सरकार: संजय निषाद

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: निषाद पार्टी एवं प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री (मत्स्य विभाग) डॉ संजय कुमार निषाद ने दूसरे चरण के निकाय चुनाव में आज जनपद संतकबीरनगर में ताबड़तोड़ जनसभाओं को संबोधित कर भारतीय जनता पार्टी और निषाद पार्टी के संयुक्त प्रत्याशी के समर्थन में जनमानस से बड़ी संख्या में मतदान करने की अपील की। निषाद ने आज नगर पंचायत धर्मसिंहवा से अध्यक्ष पद की सयुंक्त प्रत्याशी माधुरी निषाद, नगर पंचायत बाघनगर उर्फ़ बखिरा से अध्यक्ष पद प्रत्याशी डॉक्टर हरिओम बख्शी , नगर पंचायत मगहर से अध्यक्ष पद प्रत्याशी संगीत वर्मा के समर्थन में जनसभाओ को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार मछुआ समाज के सर्वागीण विकास के लिए दिनरात कार्य कर रही है।

पूर्व की सरकारों ने आजादी से लेकर 2014 तक देशभर के मछुआ समाज के लिए केवल ढाई हजार करोड़ रुपए दिए थे किंतु यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार की केन्द्र सरकार ने केवल 06 साल में 26 हजार करोड़ रुपये मछुआ समाज को नीली क्रांति और प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अंतर्गत दिया है।

निषाद ने बताया कि प्रदेश सरकार भी मछुआ समाज के हित में लगातार कार्य कर रही है, उन्होंने कहा कि अब मछुआरे भाइयो के बेटे को पढ़ाई की स्कॉलरशिप के लिए किसी अन्य विभाग के पास नही जाना होगा मत्स्य विभाग उच्च शिक्षा के लिए अब स्कॉलरशिप देने का काम करेगा। इसी क्रम में इलाज के लिए, शादी के लिए, सामुदायिक भवन निर्माण समेत अन्य तमाम योजनाओं के लाभ के लिए अब किसी अन्य विभाग के पास नही जाना होगा, मत्स्य विभाग अब लाभार्थी के अकॉउंट में सीधे पैसे ट्रांसफर करने का काम करेगा।

संजय निषाद ने पूर्व की सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि मछुआ समाज को वोट बैंक की समझने की राजनीति करने वालों ने मछुआ समाज के हक हकूक की आवाज उठाने पर कसरवल जैसे कांड पूर्व सरकारो को चरितार्थ करता है और संतकबीरनगर के लोग 07 जून 2015 के कसरवल अनोदलन में पूर्व की सरकार की दमनकारी नीतियों और हत्याकांड को भी दर्शता है। उन्होंने कहा कि मछुआ समाज का प्रतिनिधि जब लखनऊ में तत्कालीन मुख्यमंत्री से मिलने जाते थे तो लाठीचार्ज होता था किंतु अब इतिहास बदल गया है प्रदेश के मछुआ समाज को माननीय मोदी और योगी सुनते है और उनके हक-हकूक के लिए ऊनी कलम चलाने का काम भी कर रहे हैं।

इस दौरान जनपद संतकबीरनगर की प्रभारी मंत्री विजय लक्ष्मी गौतम, विधायक चौरीचौरा ई० सरवन निषाद, विधायक धनघटा गणेश चौहान, विधायक मेंहदावल अनिल त्रिपाठी, प्रदेश अध्यक्ष रविन्द्र मणि निषाद, जिलाध्यक्ष बीजेपी और निषाद पार्टी समेत पार्टी पदाधिकारी मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments