Wednesday, January 26, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकरनावल में किसानों का अनिश्चितकालीन धरना चौथे दिन भी जारी

करनावल में किसानों का अनिश्चितकालीन धरना चौथे दिन भी जारी

- Advertisement -
  • धरने में एमएसपी व स्वामीनाथन की रिपोर्ट को लेकर भरी हुंकार
  • उचित गन्ना मूल्य व मूल्य और समय पर भुगतान नहीं कराने का आरोप

जनवाणी ब्यूरो |

सरूरपुर: एमएसपी सहित तीनों काले कानून को लेकर पिछले एक माह से दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलनरत किसानों के समर्थन में कस्बा करनावल में शिव मंदिर में किसानों के चल रहा अनिश्चितकालीन चौथे दिन भी जारी रहा। किसानों के धरने-प्रदर्शन के दौरान किसानों ने अपने हकों की बात रखते हुए सरकार पर तीनों काले कानून किसानों पर थोपने का आरोप लगाते हुए कहा गया कि कृषि प्रधान देश में आज सरकार किसानों की आजादी छीन रही है।

तीनों कानून लागू होने के बाद किसान अपनी फसल का वाजिब दाम नहीं पा सकेंगे और एक बंधुआ मजदूर की तरह उद्योगपतियों से बंध जाएंगे। किसानों ने तीनों कानूनों को सरकार से वापस लेने की मांग करते हुए अपना धरना-प्रदर्शन सकुशल अंतिम लड़ाई तक जारी रखने का आह्वान किया। धरने में बोलते हुए किसानों ने कहा कि कृषि प्रधान देश में आज किसानों की सबसे बड़ी दुर्दशा होकर रह गई है।

इससे किसान जहां बर्बादी के कगार पर पहुंच गए हैं। भाजपा सरकार किसानों के हक को छीनकर पूंजीपति और उद्योगपतियों को देना चाहती है, इसे किसान कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। धरने में एमएसपी वे स्वामीनाथन रिपोर्ट आदि पर भी किसानों ने हुंकार भरते हुए कहा कि सरकार किसानों को उचित गन्ना मूल्य और समय पर भुगतान दिलाने में आज तक विफल रही है।

जिससे किसान बर्बादी की कगार पर पहले ही खडा है।किसानों की धरने का संचालन चौधरी सुरेंद्र सिंह ने अध्यक्षता कालूराम ने की इस मौके पर मुख्य रूप से रुपेश सभासद, अरुण मंगू, पंडित, बलजीत, दीपक, बिट्टू मलिक, बिट्टू चौधरी, चंद्रपाल मुखिया, डीपी गिरी, राहुल व रविंदर आदि रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments