Sunday, October 17, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutनगर निगम की जमीन भू-माफियाओं ने कब्जाई

नगर निगम की जमीन भू-माफियाओं ने कब्जाई

- Advertisement -
  • भोला रोड फोम फैक्ट्री के पास जमीन कब्जाई, फिर काटी जा रही कॉलोनी, नहीं हो रही कार्रवाई

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: शहर के भोला रोड पर स्थित बाटा फोम फैक्ट्री के पास नगर निगम की करोड़ों की जमीन पर भू-माफिया काबिज हो गए हैं। इसकी शिकायत कमिश्नर अनीता सी मेश्राम व नगरायुक्त से की, मगर जमीन की पैमाइश तक नहीं कराई गई। अब भू-माफिया ने इस जमीन पर अवैध कॉलोनी विकसित कर रहा है। कब्जाई गई जमीन पर सड़क बना दी गई है।

प्लाटिंग भी की जा रही है, मगर इसका तलपट मानचित्र एमडीए से स्वीकृत नहीं कराया गया। कॉलोनी का एंट्री प्वांइट की चौड़ाई मात्र 10 फीट है। ऐसे में एमडीए से मानचित्र स्वीकृत हो ही नहीं सकता। प्राधिकरण में इंजीनियरों की लंबी-चौड़ी फौज है, मगर इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है।

यह अवैध कॉलोनी करीब 50 बीघा जमीन में फैली है, मगर कार्रवाई करेगा कौन? भोला रोड पर बाटा फोम की फैक्ट्री है। इससे सटकर अवैध कॉलोनी विकसित की जा रही है। इस कॉलोनी की जमीन में करीब 15 सौ गज जमीन नगर निगम की है,जिसकी शिकायत कमिश्नर व नगरायुक्त से की गई हैं, लेकिन नतीजा फिलहाल सिफर है।

नगर निगम की यह जमीन करोड़ों की कीमत की हैं, मगर निगम के अधिकारियों ने आंखें मंूद रखी है। इस पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। नगर निगम में इससे पहले क्षेत्रीय पार्षद समेत कई लोग शिकायत कर चुके हैं, मगर उस शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया गया।

ज्ञानेन्द्र चौधरी के होटल दोआब पर एक नाली मात्र को लेकर एफआईआर तक नगर निगम ने दर्ज करा दी थी, मगर यहां पर 15 सौ वर्ग मीटर जमीन निगम की कब्जा ली गई है, मगर इसमें कोई नहीं तो एफआईआर ही कराई गई है और नहीं इसमें जमीन की पैमाइश कर कब्जा मुक्त ही कराई गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी इसकी शिकायत की गई है, जिसकी जांच प्रशासनिक अफसरों के पास आयी थी, मगर जांच ठंडे बस्ते में डाल दी गई है।


जमीन कब्जाने की उन्हें जानकारी नहीं है। करोड़ों की जमीन को भू-माफिया से मुक्त कराने के लिए नगरायुक्त को लिखा जाएगा, ताकि नगर निगम की जमीन को कब्जा मुक्त कराया जा सके। इसमें एफआईआर दर्ज कराने के लिए लिखा जाएगा। लेखपाल को मौके पर भेजकर जमीन की पैमाइश कराई जाएगी, ताकि यह साफ हो सके कि नगर निगम की कितनी जमीन पर भू-माफिया ने कब्जा किया है।                                      -सुनीता वर्मा, मेयर नगर निगम

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments