Sunday, July 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअवैध कब्जे के विरोध में बाजार किया बंद

अवैध कब्जे के विरोध में बाजार किया बंद

- Advertisement -
  • तेजगढ़ी स्थित आवास विकास की जमीन पर कब्जे का आरोप
  • व्यापारियों का हंगामा, दुकानें बंद कर जताया विरोध

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: तेजगढ़ी पर आवास विकास की जमीन पर अवैध कब्जे को लेकर यहां के व्यापारियों ने जमकर हंगामा किया। व्यापारियों ने यहां अपनी दुकानों को बंद कर कब्जे का विरोध किया। उधर, कब्जा करने वालों ने भी जमीन को अपनी बताते हुए हंगामा किया। हंगामे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाकर शांत कराया। उधर, आवास विकास जांच में इस जमीन को अपनी पाया है और इस संबंध में पुलिस को लिखकर दिया।

27 5

बता दें कि शास्त्रीनगर योजना संख्या-तीन स्थित तेजगढ़ी चौराहे के निकट आवास विकास की मार्केट के पास यहां पार्किंग की जमीन है। इस जमीन पर तेजगढ़ी पर ही स्थित काका स्वीट्स, काका ट्रैवल्स संचालकों ने इसे अपना बताते हुए यहां निर्माण कराना शुरू कर दिया। यहां उन्होंने एक खोखा तक खड़ा कर दिया। जबकि यह जमीन आवास विकास की है। यहां खसरा संख्या-352 में ही मार्केट बनी है और यह जमीन भी इसी खसरे में है।

यहां अवैध कब्जा किये जाने पर यहां के व्यापारियों ने बुधवार को इसका विरोध करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। शास्त्रीनगर व्यापार संघ अध्यक्ष कुलदीप तोमर की ओर से इस विषय में बुधवार को एक ज्ञापन जिलाधिकारी कार्यालय में भी सौंपा गया। उन्होंने इसे अवैध बताते हुए हंगामा कर दिया। इसे लेकर यहां तेजगढ़ी स्थित मार्केट के सभी दुकानदारों ने अपनी दुकानों को बंद कर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

व्यापारियों ने कहा कि यह जमीन आवास विकास की है, जो पार्किंग के लिये छोड़ी गई है, लेकिन इस पर अवैध रूप से कब्जा किया जा रहा है। व्यापारियों के हंगामे की सूचना पर यहां तहसील के पटवारी कुंवरपाल और मेडिकल पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने हंगामा कर रहे व्यापारियों को शांत किया और यहां से निर्माण कार्य रुकवाया। कार्य रुकवाने पर कब्जा करने वालों ने भी इसे अपनी जमीन बताया। पुलिस ने दोनों पक्षों को शांत कर वहां से वापस भेज दिया।

पटवारी कुंवरपाल ने कहा कि यहां अधिकारियों के आदेशों पर पैमाइश की जायेगी। उधर, आवास विकास के एक्सीएन नीरज सिंह ने बताया कि यह जमीन आवास विकास की है और इस पर अवैध रूप से कब्जा किया जा रहा था। इस संबंध में उनकी ओर से पुलिस को लिखकर दे दिया गया है। इस मौके पर विनोद, जितेंद्र काम्बोज, सेंट्रल मार्केट व्यापार संघ के महामंत्री जितेंद्र अग्रवाल, जागृति विहार व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन शर्मा, मयंक कपूर, विकास आदि व्यापारी मौजूद रहे।

शराब ठेके के लिए लगाया जा रहा था खोखा

यहां खोखा लगाए जाने के बाद व्यापारियों ने कहा कि खोखा अवैध रूप से लगाया गया है और शराब का ठेका खोलने की तैयारी की जा रही थी। इसमें पुलिस की भी मिलीभगत है। व्यापारियों का आरोप है कि रातोंरात सरकारी जमीन पर खोखा रख दिया और यहां से महज चंद कदमों की दूरी पर ही पुलिस चौकी स्थित है। उसके बावजूद यहां कार्य किया जा रहा था।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
4
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments