Friday, July 19, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकपड़ा कारोबारी ने खुद को मारी गोली, गंभीर

कपड़ा कारोबारी ने खुद को मारी गोली, गंभीर

- Advertisement -
  • परिजनों ने कहा-रंजिश में गोली गई मारी
  • परिजनों ने अज्ञात लोगों पर लगाया रंजिशन का आरोप

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: नौचंदी थानांतर्गत जैदी फार्म के बेकरी वाली गली निवासी एक बीस वर्षीय कपड़ा कारोबारी ने कार में बैठकर गोली मारकर जान देने का प्रयास किया। युवक को गंभीर हालत में लोकप्रिय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। युवक के घर वालों ने एसपी सिटी से अज्ञात लोगों पर रंजिशन गोली मारने का आरोप लगाया है।

30 3 31 2

थाना नौचंदी क्षेत्र के जैदी फॉर्म निवासी बीस वर्षीय दानिश पुत्र ताहिर की घंटाघर स्थित पालिका मार्केट में दुकान है। शाम को दुकान बंद करके वह घर लौटा और घर के बाहर कार खड़ी करके उसमें से बाहर नहीं निकला बल्कि थोड़ी देर में कनपटी में गोली मार कर सुसाइड का प्रयास किया। गोली चलते ही कालोनी में हड़कंप मच गया और लोग भागकर कार के पास आये और झांक कर देखा तो दानिश खून में लथपथ पड़ा हुआ था।

आनन फानन में घर वालों को सूचना दी गई और देखते देखते काफी लोग एकत्र हो गए। तभी किसी ने नौचंदी पुलिस को गोली चलने की सूचना दे दी। घायल को गढ़ रोड स्थित निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया जहां उसका उपचार चल रहा है। वहीं, इस्पेक्टर नौचंदी का कहना है कि युवक के घर वाले रंजिश की बात करते हुए किसी पर गोली चलाने की बात कर रहे हैं।

वहीं एसपी सिटी विनीत भटनागर लोकप्रिय अस्पताल गए और दानिश के घर वालों से विस्तार से बातचीत की। वहीं पुलिस का कहना है कि दानिश को लेकर घर वाले कुछ भी बोल नहीं रहे है। उनका बस यही कहना है कि दानिश को कोई गोली मारकर चला गया है।

सेंट्रल मार्केट में युवतियों से छेड़छाड़ पर मनचलों को धुना

नौचंदी थाना क्षेत्र के सेंट्रल मार्केट में बुधवार शाम कुछ युवतियां खरीदारी कर रही थीं। इस दौरान स्कूटी सवार दो युवक उनका पीछा कर रहे थे। जब युवतियों खरीदारी के लिए एक दुकान पर पहुंची तो आरोपी युवक बाहर इंतजार करने लगे। सामान खरीदने के लिए वह अन्य दुकान की ओर चलीं तो आरोपियों ने उन पर फब्तियां कस दी।

युवतियों के शोर मचाने पर आसपास के लोगों ने दोनों युवकों की पकड़कर जमकर पिटाई कर दी। मारपीट के दौरान आरोपियों ने भागने का प्रयास किया तो उनके कपड़े भी फट गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने गुस्साई भीड़ से किसी तरह आरोपियों को छुड़ाया। व्यापारियों का कहना था कि आए दिन युवक बाजार में महिलाओं और युवतियों से छेड़छाड़ करते हैं। बाजार में पुलिस की गश्त भी कम हो रही है।

थाना प्रभारी ने बताया कि युवतियों ने कोई शिकायत नहीं की। बाजार के एक व्यापारी ने तहरीर दी है। फिलहाल दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, दुकानदारों का आरोप था कि शाम के समय एक व्यापारी की नाबालिग बेटी चाय लेकर दुकान पर पहुंची थी।

इस दौरान मनचले वहीं खड़े थे। उन्होंने किशोरी के साथ भी छेड़छाड़ कर दी थी। व्यापारी ने विरोध किया तो उनके साथ भी अभद्रता कर दी थी। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने अपने नाम सालिम व समीर बताया है। सूचना मिलने पर आरोपियों के परिजन भी थाने पहुंचे गए थे।

ड्राइवर न देने पर ट्रैवल्स एजेंसी मालिक को दारोगा ने हड़काया

दिल्ली रोड स्थित पूजा ट्रैवल्स के मालिक ने पांच दिन के लिये ड्राइवर की व्यवस्था नहीं की तो एक अधिकारी ने न केवल हड़काया बल्कि देहलीगेट थाने के एक दारोगा ने आफिस में घुसकर तोड़फोड़ कर जान से मारने की धमकी दी।

वैशाली कालोनी निवासी अश्वनी कुमार सचदेवा की पूजा ट्रैवल्स के नाम से एजेंसी है। उसका पुत्र आशीष ट्रैवलर्स के नाम से अलग व्यवसाय करता हैं। आशीष की डिफेन्स एस्टेट आॅफिस माल रोड मेरट कैन्ट से गाड़ी संविदा पर है। वाहन इस समय हरेन्द्र सिंह पुत्र भोपाल सिंह निवासी मूल आशियाना कॉलोनी काठ रोड मुरादाबाद डीईओ द्वारा अपने पास रखकर प्रयोग किया जा रहा है।

इसके पीए राजू ने आशीष सचदेवा के मोबाईल पर मंगलवार को दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक अनेको बार फोन आये कि हरेन्द्र सिंह को पांच दिनों के लिये व्यक्तिगत रूप से किसी ड्राइवर की आवश्यकता है। शादी का साया अधिक होने कारण किसी ड्राईवर की व्यवस्था नहीं हुई तो आशीष ने उनको मना कर दिया। तब हरेन्द्र सिंह ने करीब 5:37 बजे शाम को फोन किया और अपमानित करते हुए धमकाया कि व्यापार करना बन्द करा देगा तथा कार्यालय और वाहनो को पुलिस से आज ही सील लगवा देगें तथा गम्भीर मकदमों में फंसाकर जीवन बर्बाद कर देगें।

22 फरवरी को अपने कार्यालय स्थल पूजा ट्रैवलर्स पर था तो मन्दीप सिंह सब-इंस्पेक्टर थाना देहली गेट 5-6 पुलिस कर्मचारियों से साथ शाम करीब 6 बजे जबरदस्ती गालियां देते हुये कार्यालय के अन्दर घुस आये तथा कार्यालय के रजिस्टर व स्टेशनरी को फैकना व उठाकर ले जाना शुरू कर दिया, जब कारण पूछा तो बदसलूकी करते हुये हरेन्द्र सिंह डीईओ की बात न मानने व एसपी काईम के द्वारा कार्यालय व गाडियां सील करने के आदेश बताकर प्रार्थी के साथ धक्का मुक्की की तथा प्रार्थी के वाहनों की वीडिया बनाकर खीचकर गाडियां ले जाने लगे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
6
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments