Sunday, June 13, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsबड़ौतग्राम प्रधान का समर्थन न करने पर पंचायत सदस्य की मां को...

ग्राम प्रधान का समर्थन न करने पर पंचायत सदस्य की मां को दी धमकी

- Advertisement -
0
  • बड़ौत थाने में ले जाकर कोरे कागजों पर लगवाए अंगूठे
  • हारे प्रधान पद प्रत्याशी ने खिलाफ गुकदमा दर्ज कराने का बनाया दबाव

जनवाणी संवाददाता |

बड़ौत: क्षेत्र के लुहारी गांव में ग्राम प्रधान के पक्ष में कई ग्राम पंचायत सदस्यों ने सामूहिक रूप से विकास कार्यों में सहयोग करने से मना कर दिया। कई ने तो अपने इस्तीफे जिलाधिकारी को भी दे दे दिए। एक दलित ग्राम पंचायत सदस्य की मां ने पत्रकारों के समक्ष अपना दुखड़ा रोते हैं बताया कि उसके पास नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान के पुत्र समेत कई लोग आए। उसे गांव से उठाकर बड़ौत थाने में ले गए। वहां ले जाकर उससे कोरे कागजों पर अंगूठे लगवाए। खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज करने का दबाव बनाया।

लुहारी गांव निवासी दलित महिला शिक्षा देवी पत्नी स्व. धर्मपाल ने गुरुवार को पत्रकारों के समक्ष बताया कि उसका बेटा उमेश ग्राम पंचायत सदस्य है। वह अब नौकरी करने गया हुआ है। ग्राम प्रधान के पुत्र उसे अब धमका रहे हैं कि अपने पुत्र को बुला कर लाए। वह बुधवार को खेत में काम कर रही थी। वहां उसे गाड़ी में डालकर कह बड़ौत थाने लाया गया।

थाने में उसके कोरे कागजों पर अंगूठे लगवाए। उस पर दबाव डाला गया कि वह हारे हुए प्रधान पद के प्रत्याशी संजीव के खिलाफ अपने बेटे के अपहरण का मुकदमा दर्ज कराएं। उसने मना कर दिया तो अब उसे पट्टे उसे पट्टे में मिली जमीन के पट्टे को निरस्त करने की धमकी दे रहे हैं। इस संबंध में शिक्षा देवी ने एससी एसटी आयोग, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, डीएम समेत अनेक अधिकारियों को अपने बेटे व अपनी जान माल की सुरक्षा की मांग की।

यहां विदित है कि कोरम पूरा नहीं होने पर ग्राम पंचायत की बॉडी को पूरा नहीं मानी जाता है।इसके लिए कम से कम दो तिहाई बहुमत होना चाहिए। बताया गया है कि आधा दर्जन ग्राम पंचायत सदस्यों ने पहले ही जिलाधिकारी को अपने इस्तीफे के प्रार्थना पत्र के प्रार्थना पत्र दिए हैं। अब नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्यों को बटोरने में भी जान जान लगाए हुए हैं।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
1

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments