Sunday, June 13, 2021
- Advertisement -
HomeUttarakhand NewsRoorkeeप्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल ने बाजार खोले जाने मांग की

प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल ने बाजार खोले जाने मांग की

- Advertisement -
0

जनवाणी ब्यूरो |

रुड़की: प्रांतीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि ने आर्य समाज मंदिर बीटी गंज में थालिया बजाकर बाजार खोले जाने की मांग की गई। जिलाध्यक्ष सौरभ भूषण शर्मा ने कहा कि सरकार व्यापारियों की बात नहीं सुन रही है अब कोरोना महामारी के मामले भी कम होते जा रहे हैं तो व्यापारियों के प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति भी सरकार को दे देनी चाहिए। इसी क्रम में थालियां बजाकर शांतिपूर्ण विरोध किया गया।

उनका कहना है कि सरकार कोई ना कोई सकारात्मक कदम अब उठाएगी और व्यापारियों के प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति सरकार द्वारा प्रदान कर दी जाएगी। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष प्रमोद गोयल ने कहा कि आज समय आ गया है जब हमें अपनी सरकार को जगाना होगा जो सरकार व्यापारी हितों की बात नहीं करती उसे इसी तरह विरोध करके सरकार के आगे अपना विरोध दर्ज कराना होगा।

जिला महामंत्री विश्वतोष सिंह ने कहा कि आज हमने व्यापारियों व पदाधिकारियों के साथ थाली बजाकर सरकार से यह मांग की है कि व्यापारी प्रतिष्ठान जल्द से जल्द खोल दी जाएं।

इस अवसर पर जिला कोषाध्यक्ष विभोर अग्रवाल एवं जिला संयुक्त महामंत्री राहुल शर्मा ने कहा कि डेढ़ महीने से भी ज्यादा का समय व्यापारी प्रतिष्ठान बंद हुए हो गया है अब व्यापारियों की आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर हो गई है बहुत जल्द सरकार को अब व्यापारी प्रतिष्ठान खोल देने चाहिए।

जिला मंत्री रजनीश गुप्ता एवं शिवकुमार शर्मा ने कहा कि आज हम व्यापारियों ने थाली बजाकर अपना विरोध सरकार के आगे दर्ज कराया है हमें पूर्ण यकीन है कि सरकार हमारी बात मानेगी। नगर कोषाध्यक्ष मोहित सोनी ने कहा कि व्यापारी आज आर्थिक स्थिति के संकट से गुजर रहा है व्यापारी की हालत और उसके परिवार की हालत बहुत दयनीय हो गई है सरकार को व्यापारियों पर ध्यान देते हुए उनके प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति दे देनी चाहिए।

इस अवसर पर विक्रांत जैन, मोहन लाल, नदीम, धीरज जनवाणी ,फरोज, आशु शर्मा, हिमांशु शर्मा, गौरव सिंघल, बबलू पंडित , व्यापारी गण उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments