Monday, October 3, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutडायल 112 से लेकर अधिकारी तक सुरक्षा में तत्पर: एसपी सिटी

डायल 112 से लेकर अधिकारी तक सुरक्षा में तत्पर: एसपी सिटी

- Advertisement -
  • यूनाइटेड ज्वैलर्स एंड मैन्युफैक्चर्स फेडरेशन ने किया ‘संवाद से विश्वास’ कार्यक्रम का आयोजन
  • नगर पुलिस अधीक्षक ने कहा, बिना वेरिफिकेशन कराए कारीगर या सहयोगी को न जोड़ा जाए

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: आज चैंबर फॉर डेवलोपमेन्ट एंड प्रमोशन आॅफ एमएसएमई के निर्देशन में यूनाइटेड ज्वैलर्स एंड मैन्युफैक्चर्स फेडरेशन की ओर से पुलिस प्रशासन एवं व्यापारियों की बाजार एवं सामाजिक सुरक्षा पर साझा भागीदारी को प्रोत्साहित करने के लिए संवाद से विश्वास कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

जिसमें मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक नगर पीयूष सिंह रहे। कार्यक्रम में सराफा उद्योग की विभिन्न समस्याओं पर विस्तार से चर्चा हुई। जिसमें व्यापारियों की सुरक्षा संबंधी विषय पर पुलिस अधीक्षक नगर ने आश्वस्त किया कि डायल 112 से लेकर अधिकारी तक पुलिस प्रशासन डोर स्टेप पर समस्याओं के समाधान के लिए तत्पर है।

संगोष्ठी के दौरान पुलिस अधीक्षक नगर पीयूष सिंह ने सभी पदाधिकारियों और सदस्यों से परिचय प्राप्त किया। उन्होंने व्यापारियों की सुरक्षा के लिए हर संभव स्तर से प्रयास की बात कही। साथ ही सुझाव दिया कि बिना वेरिफिकेशन कराए किसी भी कारीगर को काम पर न रखा जाए। साथ ही व्यापार में किसी नए सहयोगी को जोड़ने से पूर्व उसके बारे में पूरी जानकारी जुटा ली जाए।

इन सावधानियों को बरतने से काफी हद तक आपराधिक घटनाओं में कमी आ सकती हैं। यूनाइटेड ज्वैलर्स एंड मैन्युफैक्चर्स फेडरेशन के अध्यक्ष डॉ. संजीव अग्रवाल ने संगोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए कहा कि पुलिस डॉक्टर की तरह ही है, जिसके साथ संबंध और संचार सुगम व अनौपचारिक होना जरूरी है। हालांकि औपचारिक रूप से संचालित सामुदायिक पुलिसिंग रणनीति का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हो सकता है।

मगर अपराध नियंत्रण के लिए अधिकारियों के साथ निर्भीक निडर रह कर सभी को सहयोग करना है। साथ ही यह पुलिस की भी जिम्मेदारी है कि आॅथरिटी के जगह अगर मित्र की तरह व्यवहार किया जाए तो बेहतर परिणाम आएंगे। संचालन कर रहे चैंबर फार डेवलपमेंट एंड प्रमोशन आॅफ एमएसएमई के सचिव आशुतोष अग्रवाल ने कहा कि व्यापार संबंधित अपराध को रोकने के लिए आयोजित इस संगोष्ठी की शृंखला में एक कार्यक्रम भी लागू किया जा रहा है।

जिसमें सुरक्षा विशेषज्ञ स्थानीय व्यवसाय और पुलिस शामिल रहेगी। व्यापारियों को पुलिस की ओर से प्रस्तुत अपराध की रोकथाम पर एक दिवसीय संगोष्ठी में आमंत्रित किया जाएगा। इसके बाद प्रतिष्ठानों की साइट पर सुरक्षा आॅडिट किया जाएगा। अपराध की रोकथाम के उपायों को लागू करने के प्रयासों के किए संस्था हमेशा सहयोग करेगी। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन के साथ किसी भी व्यापारी को कोई समस्या हो पुलिस या संस्था से सम्पर्क कर सकते हैं।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक नगर पीयूष सिंह ने सराफा बाजार, नील गली समेत समस्त सराफा बाजार क्षेत्र का भ्रमण किया। अध्यक्ष डॉ. संजीव अग्रवाल के साथ-साथ संगोष्ठी में उपाध्यक्ष राजकिशोर रस्तोगी, महामंत्री राजकुमार भारद्वाज, कोषाध्यक्ष कोमल वर्मा, सचिव आशुतोष अग्रवाल, जाकिर हुसैन, अनुज अग्रवाल, अमित वर्मा, अजय वर्मा, मुकुल मित्तल, अम्बरीष जैन, विभु अग्रवाल, मंजीत सिंह कोचर, इनाम अली, संजय कोटाल, संतपाल समेत करीब सौ व्यापारी उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments