Friday, January 27, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutएसटीएफ ने पकड़ी अवैध पिस्टल फैक्ट्री, एक गिरफ्तार

एसटीएफ ने पकड़ी अवैध पिस्टल फैक्ट्री, एक गिरफ्तार

- Advertisement -
  • एनसीआर, शामली, मुजफ्फरनगर में होती हैं सप्लाई
  • 25 से 30 हजार रुपये में बिकती हैं पिस्टल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: एसटीएफ की टीम ने सोमवार को लिसाड़ी गेट टीम के साथ मिलकर लिसाड़ी गेट में अवैध तरीके से पिस्टल बनाने की फैक्ट्री पकड़ी है। एसटीएफ ने मौके से फैक्ट्री संचालक असलम, पुत्र मोहम्मद शरीफ निवासी हुमायूं नगर नूर गार्डन कालोनी थाना लिसाड़ी गेट को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ उससे पूछताछ कर रही है।

अभी तक हुई पूछताछ में फैक्ट्री संचालक असलम ने बताया कि वो पिछले डेढ़ साल से अवैध फैक्ट्री चला रहा था। हथियार बनाने में वो आर्म्स फैक्ट्री में काम कर चुके एक व्यक्ति की मदद लेता था। उसे हथियार बनाने और बारुद की पूरी जानकारी थी। उसी की मदद से फैक्ट्री में हथियार बनते थे। कच्चा माल, बारूद सरधना के एक सप्लायर से खरीदा जाता था।

अवैध पिस्टल बनाकर उसे शामली और मुजफ्फरनगर में सप्लाई करने थे। बताया कि असलम के पास से 1 पिस्टल 32 बोर, 6 अर्धनिर्मित पिस्टल, 6 मैगजीन, तीन अधबनी मैगजीन, पिस्टल की 8 नाल, मैगजीन की 7 स्प्रिंग, 24 हैमर, एक ड्रिल मशीन, एक ग्राइंडर मशीन, 25000 नकद, लोहा काटने की आरी, दो मोबाइल फोन, एक स्कूटी, पिस्टल की फैक्ट्री व पिस्टल बनाने के अन्य उपकरण बरामद किए हैं।

तीन दिन में एक पिस्टल

एएसपी ने बताया कि असलम तीन दिन में एक पिस्टल तैयार कर लेता है। महीने भर में 10 पिस्टल बनाकर गाजियाबाद में एक शस्त्र विक्रेता के यहां काम करने वाले सरधना के मुल्ला नामक युवक को दे देता है। असलम एक पिस्टल को 25 से 30 हजार रुपये में बेचता है। उसकी बनी हुई पिस्टलें एनसीआर, मुजफ्फरनगर, शामली में ज्यादा बिकती हैं। उन्होंने बताया कि डेढ़ साल से वो लगातार काम कर रहा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments