Monday, January 17, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliबारिश से नो केन, चीनी मिलों का चक्का जाम

बारिश से नो केन, चीनी मिलों का चक्का जाम

- Advertisement -
  • दोपहर 12 बजे बंद हो गई शामली चीनी मिली
  • ऊन मिल दो बजे और थाना​भवन छह बजे बंद

जनवाणी संवाददाता |

शामली: पश्चिमी उप्र में पिछले दो-तीन दिनों से हो रही बूंदाबांदी के चलते गन्ना छिलाई का कारण प्रभावित होया गया जिसके चलते शनिवार शाम से चीनी मिलों पर गन्ना नहीं पहुंच रहा था। रविवार को तो बिल्कुल भी गन्ना नहीं पहुंचा।

इसलिए जनपद की तीनों चीनी मिलों में नो केन की स्थिति के चलते पेराई का कार्य प्रभावित हो गया जिस पर मिलों को बंद करते हुए किसानों को मरम्मत को मैसेज भेजना पड़ा है। मौसम का मिजाज अगर ऐसा ही रहता तो अगले दो दिनों तक पेराई प्रभावित रहने के आसार हैं।

पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी के साथ-साथ पश्चिमी उप्र में पिछले दो-तीन दिनों से मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है। आसमान में घने बादलों के बीच बूंदाबांदी हो रही है। शनिवार की आधी रात से सुबह तक बारिश हुई।

फिर, रविवार सुबह के समय भी बूंदाबांदी के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा। बारिश के चलते जनपद में गन्ने की छिलाई पिछले दो दिनों से प्रभावित चल रही थी। जिससे जनपद की तीनों चीनी मिलों पर गन्ना कम मात्रा में आ रहा था। गन्ना कम होने के कारण चीनी मिलों ने पेराई क्षमता कर दी थी।

अपर दोआब शुगर मिल शामली के गन्ना महाप्रबंधक डा. कुलदीप पिलानिया ने बताया कि बारिश के चलते देहात क्षेत्र के 31 तथा मिल गेट का एक तौल केंद्र गन्ना न आने के कारण बंद करना पड़ा है। जिसके चलते गन्ने की मात्रा कम होती चली गई। फिर, दोपहर 12 बजे गन्ने के अभाव में चीनी मिल की पेराई बंद करनी पड़ी।

वरिष्ठ गन्ना प्रबंधक दीपक राणा ने बताया कि पेराई बंद होने के कारण चीनी मिल में मरम्मत का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। दूसरी ओर, संभावना जताई जा रही है अगर मौसम ऐसा ही रहा तो अगले दो-तीन दिन पेराई प्रभावित रह सकती है।

ऊन मिल दोपहर दो बजे हुई बंद

जनपद में पिछले तीन दिनों से मौसम खराब चल रहा है। लगातार बूंदाबांदी व्यवस्था हो रही है जिससे गन्ने की छिलाई का कार्य ठप हो गया है जिन किसानों ने गन्ने की छिलाई की है वह खेतों में पानी भरा होने के कारण गन्ने को मिल तक नहीं पहुंचा पा रहे है। हालांकि अभी तक क्रय केंद्रों व साानों से किसान गन्ना लेकर मिल तक पहुंच रहे हैं लेकिन शनिवार को तेज वर्षा से वह कार्य भी ठप हो गया।

चीनी मिल के गन्ना महाप्रबंधक अनिल अहलावत ने बताया कि रविवार दोपहर करीब दो बजे नो केन की स्थिति उत्पन्न होने के कारण चीनी मिल में पेराई बंद करनी पड़ी। मौसम साफ होने के बाद ही गन्ना सुचारू रूप से आ पाएगा। उन्होंने बताया कि गत वर्ष का संपूर्ण भुगतान सोमवार को किसानों के खाते में भेज दिया जाएगा।

थानाभवन में शाम छह बजे थमा चक्का

बजाज ग्रुप की थानाभवन चीनी मिल के गन्ना महाप्रबंधक जेबी तोमर ने बताया कि शाम छह गन्ना न होने के कारण मिल में पेराई को बंद करना पड़ा है।

तोमर ने बताया कि पिछले दो दिनों से गन्ना पूरी क्षमता के साथ नहीं आ रहा था जिसके चलते चीनी मिल की स्पीड धीमी कर पेराई क्षमता कम कर दी गई थी।

अब मौसम सही होने और गन्ना आने के बाद ही चीनी मिल में पेराई प्रारंभ हो पाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments