Monday, June 27, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutभीषण गर्मी में ‘गर्म’ हुआ ठंडे का बाजार

भीषण गर्मी में ‘गर्म’ हुआ ठंडे का बाजार

- Advertisement -
  • बाजार में बढ़ी पारंपरिक पेय पदार्थ की डिमांड
  • कोल्ड ड्रिंक के बजाय लस्सी जूस और नारियल पानी कर रहे पसंद

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: भीषण गर्मी में ‘ठंडे’ का बाजार भी गर्म हो गया है। गला तर करने के लिए बाजार में कई विकल्प मौजूद हैं। मगर, लोग अब सेहत को ध्यान में रखते हुए ठंडे को चुन रहे हैं। ऐसे में कोल्ड ड्रिंक को कम तवज्जो देते हुए लोग पारंपरिक पेय जैसे लस्सी, मठ्ठा, सत्तू, बेल का शरबत, शिकंजी, जूस आदि को पसंद कर रहे हैं। लोगों का मानना है कि ठंडक और स्वाद के साथ पारंपरिक पेय ऊर्जा देते हैं।

बाजार में मिलने वाली कोल्ड ड्रिंक की कीमत और पारंपरिक पेय पदार्थों की कीमत लगभग बराबर ही होती है। मगर, इसके फायदों में बड़ा फर्क होने के कारण लोगों का रुझान स्वदेशी की तरफ बढ़ा है। 30 रुपये तक की लस्सी का एक गिलास जितना सेहत के लिए फायदेमंद है उतनी ही घातक इसी कीमत में आने वाले कोल्ड ड्रिंक है।

अब बाजार में लस्सी, मठ्ठा, जूस, शिकंजी, नारियल पानी आदि के पेय पदार्थों केबाजार में आसानी से उपलब्ध हैं। नारियल पानी की बिक्री बढ़ी गर्मी में नारियल पानी की मांग भी बढ़ गई है। बेगमपुल, रोडवेज पर कई दुकानें लगी हैं। नारियल पानी सेहत के लिए भी लाभकारी होता है।

पेय पदार्थों की बढ़ी डिमांड

गर्मी शुरू होने के साथ ही चौक चौराहों पर नारियल पानी, गन्ना व अन्य फलों के जूस, मिक्स फ्रूट की दुकानें सज गई हैं। लोग भी गर्मी शुरू होने के साथ ही पेय पदार्थ पीना ज्यादा पसंद कर रहे हैं। कई सारे लोग फल फ्रूट खाना पसंद करते हैं। लोग कुछ ऐसे फल या ड्रिक्स पी रहे जो शरीर के लिए फायदेमंद हो, जिससे बीमार भी न पड़े और पेट से जुड़ी कोई समस्या भी न हो। गर्मी से बचाव के लिए लोग जागरूक बने हुए हैं। लोग स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए हर तरह के जतन किए जा रहे हैं।

गर्मी में गन्ना है लाभदायक

डॉक्टरों के अनुसार आयरन व कार्बोहाइड्रेट की प्रचुर मात्रा होने के कारण गन्ने का रस तुरंत शक्ति व स्फूर्ति प्रदान करता है। इसमें ढेर सारे खनिज तत्व व आॅर्गेनिक एसिड होने के कारण इसका औषधीय महत्व भी है। गन्ने का रस पेट, दिल, दिमाग, गुर्दे व आंखों के लिए लाभदायक है। गन्ने का रस हमेशा ताजा व छना हुआ ही पीना चाहिए। एसिडिटी के कारण होने वाली जलन में भी गन्ने का रस लाभदायक होता है। गन्ने के रस का सेवन यदि नींबू के रस के साथ किया जाए तो पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है।

बेल के शरबत के फायदे

बेल का जूस गर्मी के मौसम में काफी फायदेमंद रहता है। यह शरीर को अंदर से ठंडा रखता है और एसिडिटी की समस्या से दूर करता है। इसके नियमित इस्तेमाल से कब्ज की बीमारी दूर रहती है। भूख भी अधिक लगती है। बेल के जूस से ब्लड शुगर भी कंट्रोल में रहता है। बेल का जूस पीने से कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा घटती है।

साथ ही इसमें थोड़ा घी मिलाकर पीने से दिल की बीमारी का खतरा कम रहता है। यह खून को साफ रखता है, अल्सर की समस्या को भी दूर करता है। अगर मुंह में छाले आ गए हैं तो बेल के जूस से यह समस्या भी दूर हो जाती है। गुड़ या चीनी के साथ मिलाकर इसके इस्तेमाल से दस्त और डायरिया में काफी फायदा रहता है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments