Wednesday, December 1, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurसूदखोरों से तंग व्यक्ति ने की आत्महत्या!, स्यूसाइट नोट मिला

सूदखोरों से तंग व्यक्ति ने की आत्महत्या!, स्यूसाइट नोट मिला

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

गागलहेड़ी: सूदख़ोरी से तंग आकर एक युवक ने फंदे से झूलकर अपनी लीला समाप्त कर ली है। परिजनों ने जब सुबह उठकर देखा तो राजेश कमरे की छत में लगे पंखे में लगे रस्सी के फंदे में झूल रहा है। परिजनों के देखते ही घर मे अचानक चीखपुकार की आवाजें आने लग गई, देखते ही देखते घर मे भीड़ इक्टठा होने लग गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया।

पुलिस ने जब शव को निचे उतारा तो मृतक की जेब से एक स्यूसाइट नोट पुलिस को मिला जिसमे उसने अपनी मौत के कारण साफ साफ लिखे थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और स्यूसाइट नोट की जांच पड़ताल में लग गई।

स्यूसाइट नोट में मृतक राजेश ने अपनी मौत का जिम्मेदार साफ साफ अनुज पंडत! को बताया है, नोट में यह लिखा है कि मैने कुछ साल पहले अनुज से ब्याज पर कुछ उधारी ली थी। जिसमे मेरे से वह चुकाई नही गई, अनुज लगातार मुझे धमकियां देता आ रहा था।

मृतक राजेश पुत्र तुंगल निवासी कैलाशपुर की आज सुबह तड़के मौत हो गई थी। शव के पास मिले स्यूसाइट नोट में अनुज पंडित को राजेश ने मौत का जिम्मेदार ठहराया, जिसके बाद मृतक के भाई व पत्नी ने गागलहेड़ी थाने पहुचकर अनुज पण्डित के खिलाफ नामजद तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

मिले स्यूसाइट नोट में लिखा था कि राजेश ने अनुज से 15 के लगभग कुछ पैसे ब्याज पर लिए थे, जिसके बाद 2 हजार की क़िस्त रोजाना देनी तय हुई लेकिन वह राजेश से दी नही गई, सूद बढ़ता गया। राजेश कर्जे में दबता गया। 2 हजार की क़िस्त को बढ़ाकर सूदख़ोर ने क़िस्त 35 सौ रुपए कर दी। राजेश ने नोट में कहा कि जितना पैसा लिया था उससे ज्यादा तो उसने ब्याज में दे दिया।

क्षेत्र में सूदखोरों का मकड़जाल फैला हुआ है। सूदखोर 20-25 प्रतिशत पर कर्ज देकर मानसिक एवं शारीरिक रूप से परेशान करते हैं। मूल रकम के एवज में चक्रवृद्धि ब्याज से भी अधिक राशि वसूल की जाती है। इसी के चलते इसके पहले भी कई लोग सूदखोरों की प्रताड़ना के कारण आत्महत्या कर चुके हैं। सूदखोर बिना किसी लाइसेंस एवं वैधानिक अनुमति के खुलेआम अपना कारोबार चला रहे हैं। पुलिस इन सूदखोरों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

मृतक राजेश की पत्नी सुनीता ने बताया कि पति राजेश पिछले 16 साल से अनुज की देनदारी में ही उलझा हुआ है। जिसमे उसने दुकान भी बेच दी है। पत्नी बोली कि जितने पैसे लिए गए थे उससे ज्यादा उसे दे दिए गए है। अनुज की वजह से ही मेरा पति मरा है उसे भी सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। राजेश अपने पीछे 7 बच्चों को छोड़कर गया है। जिसमे 6 लड़किया ओर 8 साल का एक बेटा है।

थाना प्रभारी भानुप्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि सुबह तड़के फांसी लगातार आत्महत्या करने की सूचना प्राप्त हुई थी। जिसके बाद घटना स्थल पर जाकर देखा कि राजेश ने फंदे से लटककर जान दी। शव पीएम के लिए भिजवाया है। जल्द ही रिपोर्ट आ जाएगी। शव के पास से स्यूसाइट नोट मिला है, जिसमे मामला ब्याज के पैसे के लेनदेन का देखा जा रहा है। परिजनों की ओर से एक को नामजद करते हुए तहरीर दी गई है। मामले की बारीकी से जांच की जा रही है।

What’s your Reaction?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
1
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments