Tuesday, March 2, 2021
Advertisment Booking
Home Uttar Pradesh News Meerut पहाड़ों की बर्फबारी के असर से वेस्ट यूपी में छाया घना कोहरा

पहाड़ों की बर्फबारी के असर से वेस्ट यूपी में छाया घना कोहरा

- Advertisement -
+1
  • उत्तर पश्चिमी हवाओं के चलते देखने को मिल रहा कोहरे का असर
  • फरवरी माह में इस बार ज्यादा दिखा कोहरे का कहर

मुसाहिद हुसैन |

मोदीपुरम: इस बार फरवरी के महीने में पड़ रहा कोहरा 15 वर्ष का रिकार्ड तोड़ रहा है। पिछले अन्य सालों की अगर तुलना करे तो फरवरी माह में कोहरे का असर नहीं दिखाई दिया, लेकिन इस बार जिस तरह से इस महीने में कोहरे का भयंकर प्रकोप देखने को मिल रहा है। उससे लग रहा है कि वातावरण में नमी बढ़ने के कारण इसका असर अब भी बना हुआ है।

मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि उत्तर पश्चिमी हवाओं के चलने और वातावरण में नमी बढ़ने के कारण कोहरे का असर बना हुआ है। फिलहाल यह स्थिति एक-दो दिन और रहेगी। इसके बाद मौसम पूरी तरह से साफ हो जाएगा। फरवरी माह में इस बार मौसम बदला हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ बार-बार सक्रिय हो रहा है।

पश्चिमी विक्षोभ के असर से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। दो दिन तापमान में बढ़ोतरी रहने से दिन और रात के तापमान में उछाल दिखाई दिया, लेकिन उत्तर पश्चिमी हवाओं के असर से मौसम में नमी फिर से बढ़ गई और रात में घना कोहरा छा गया।

जिन स्थानों पर नमी अधिक रही वहां कोहरे का असर अधिक दिखाई दे रहा है। इसके अलावा कोहरा आने का एक मुख्य कारण ये भी है कि वातावरण में बनी नमी नीचे की ओर आ रही है। जिससे घना कोहरा छाया हुआ है।
फसल प्रणाली अनुसंधान संस्थान के मौसम वैज्ञानिक डा. एम शमीम अहमद का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ एवं उत्तर पश्चिमी हवाओं के कारण अगले दो दिन सुबह कोहरा छाए रहने की संभावना है।

उसके बाद मौसम पूरी तरह साफ रहेगा। मौसम के वर्तमान मिजाज को देखते हुए रात का न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस और दिन का अधिकतम तापमान 25.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विशेषज्ञों की माने तो उनका कहना है कि इस समय दिखायी दे रहे कोहरे से नुकसान की संभावना कम है। कोहरा रात में तो दिख रहा है, लेकिन दिन में मौसम साफ रहने और धूप निकलने से राहत मिल रही है।

15 साल बाद फरवरी में दिखाई दिया कोहरे का असर

मौसम वैज्ञानिक डा. एम शमीम अहमद के अनुसार पिछले करीब 15 सालों बाद फरवरी में कोहरे का असर देखने को मिला। अमूमन इस मौसम में कोहरा नहीं पड़ता है, लेकिन इस बार शुरूआत से ही कोहरा ज्यादा है, जिसका असर अब भी दिखाई दे रहा है। पहाड़ों पर बन रहे पश्चिमी विक्षोभ के असर से वेस्ट यूपी में कोहरा छाया हुआ है। अभी दो दिन तक और ऐसे ही मौसम रहेगा, इसके बाद मौसम के साफ रहने के आसार है। जबकि तापमान में भी बढ़ोतरी होगी।

कोहरा से फसलों को नहीं है नुकसान

इस समय जो कोहरा पड़ रहा है, उसका असर लंबे समय के लिए नहीं है। सुबह के समय कोहरा पड़ने से फसल को कोई नुकसान नहीं पहुंच रहा है। अगर कोहरा लगातार पड़े और धूप न निकले तो ज्यादा असर दिखाई देता है। सुबह के समय कोहरा पड़ने से तापमान भी स्थिर है, जिस कारण से तापमान में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं होगी।

कैसे पड़ता है कोहरा

जब नमी का स्तर निचली सतह पर आ जाता है और हवाओं का असर बदल जाता है तो हवाओं में नमी बढ़ जाती है। जिसके कारण कोहरा पड़ना शुरू हो जाता है। रात में भी इस समय ओस बहुत ज्यादा पड़ रही है। जिस कारण से कोहरा दिखाई दे रहा है। कोहरे का असर कई जगह पर रात से ही दिखना शुरू हो जाता है। शनिवार को भी मेरठ और आसपास जनपदों में ज्यादा कोहरा देखने को मिला।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments