Wednesday, May 12, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliकोरोना महामारी से हारे भाजपा नेता अजय संगल

कोरोना महामारी से हारे भाजपा नेता अजय संगल

- Advertisement -
0
  • ग्रेटर नोएडा के हॉस्पिटल में उपचार के दौरान मृत्यु
  • कोविड-19 गाइड लाइन से कराया अंतिम संस्कार

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: भारतीय जनता पार्टी के जिला उपाध्यक्ष एवं वरिष्ठ समाजसेवी सिल्वर बैल्स स्कूल के चेयरमैन अजय संगल का कोरोना संक्रमण के कारण ग्रेटर नोएडा के हॉस्पिटल में शुक्रवार की सुबह उपचार के दौरान निधन हो गया। अजय संगल की आकस्मिक मृत्यु की सूचना से पूरे शहर में शोक की लहर दौड़ गई। नोएडा से उनका शव शामली पहुंचने पर धीमानपुरा रेलवे फाटक के निकट स्थित श्मशान घाट में कोविड-19 प्रोटोकाल के अनुसार अंतिम संस्कर कर किया गया।

भाजपा के जिला उपाध्यक्ष अजय संगल को गत चार दिन पूर्व कोरोना संक्रमित होने पर ग्रेटर नोएडा के यर्थात हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां गुरुवार सवेरे उनको सांस लेने में काफी दिक्कते होने लगी, जिसके बाद उनकी हालत बिगड़ गई।

अजय संगल की हालत बिगड़ने पर चिकित्सकों ने उनको प्लाजमा चढ़ाने की बात कही, जिसकी सूचना शहर के लोगों को हुई तो उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से आसपास जनपदों सहित अनेकों प्रदेशों में जनसम्पर्क कर प्लाजमा की तुरंत व्यवस्था कराई गई। प्लाजमा लगाने के बाद रेमडेसिवीर इंजेक्शन भी लगाया गया लेकिन हालत में कोई सुधार नहीं हो सका।

शुक्रवार की सुबह करीब पौने आठ बजे ग्रेटर नोएडा के हॉस्पिटल के चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वरिष्ठ समाज सेवी अजय संगल की कोरोना से मौत होने की सूचना जैसे ही उनके समर्थकों को हुई तो उनमें शोक की लहर दौड़ गई। सवेरे से ही उनके घर के बाहर लोगों के आने जाने का सिलसिला शुरू हो गया, लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए कोतवाली पुलिस को उनके घर के बाहर लगाया गया था और भीड़ को एकत्रित नहीं होने दिया गया।

पुत्र मानस संगल ने दी मुखाग्नि

अजय संगल का शुक्रवार को दोपहर करीब 3 बजे शव शामली पहुंचा, जहां शहर के धीमानपुरा स्थित शमशान घाट में कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करते परिजनों ने पीपीई किट पहन कर हुए स्वास्थ्य विभाग की एवं कोतवाली प्रभारी इंस्पेक्टर सतपाल सिंह की मौजूदगी उनका अंतिम संस्कार कराया गया। अजय संगल के पुत्र मानस संगल ने मुखाग्नि दी।

अजय संगल की मौत से परिवार में मचा कोहराम

भाजपा नेता अजय संगल की मौत से जहां परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। उनकी पत्नी और बेटे का रो-रो कर बुरा हाल है। अजय संगल का आस्मिक निधन सिल्वर बैल्स परिवार के लिए अपूर्णीय क्षति हैं। अजय संगल के समर्थकों एवं शुभचिंतकों ने भी बड़ी संख्या में अंतिम यात्रा में शामिल होकर शोक प्रकट किया। बड़ी संख्या में सोशल मीडिया के माध्यम से नागरिकों ने दुख प्रकट किया।

अत्येष्टि स्थल पर पहुंचे राज्यमंत्री और सदर विधायक

भाजपा नेता अजय संगल के निधन पर पूरी भारतीय जनता पार्टी में शोक की लहर है। राज्यमंत्री जसवंत सैनी, सदर विधायक तेजेंद्र निर्वाल, भाजपा जिलाध्यक्ष सतेंद्र तोमर और कैबिनेट मंत्री के प्रतिनिधि आशीष कुमार ने अंत्येष्टि स्थल पर पहुंच कर शोक संवेदना प्रकट की। इस दौरान उन्होंने कह कि अजय संगल का आकस्मिक जाना भाजपा के लिए अपूर्णीय क्षति है। अजय संगल आरएसएस के जुड़े हुए थे। आएसएस प्रमुख मोहन भागवत से लेकर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा सहित कई मंत्रियों और नेताओं से उनके सीधे संबंध थे।

गत वर्ष कोरोना काल में की थी जरुरतमंदों की मदद

वरिष्ठ समाज सेवी अजय संगल ने गत वर्ष कोरोना महामारी में लगाए गए लॉक डाउन दौरान हर धर्म, वर्ग व जाति के असहाय लोगों के घरों में सहायता पहुंचने का काम किया। उन्होंने टीम अजय संगल बनाकर कोरोना संक्रमण के कारण गली मौहल्लों में की गई बैरिकेटिंग के कारण परेशानी का सामना करने वाले लोगों तक भी सामग्री पहुंचने का काम किया था। यही नही रात दिन एक टीम बनाकर खुद की भी सुरक्षा की और लोगों को भी कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक किया। साथ ही, लाखों मास्क बनवाकर लोगों को निशुल्क वितरित कराए थे। भूखे प्यासे लोगों को भोजन भी उपब्लध कराया था।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
1

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments