Thursday, May 13, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutभाजपा नेता के भाई कोयला व्यापारी की गोली मारकर हत्या

भाजपा नेता के भाई कोयला व्यापारी की गोली मारकर हत्या

- Advertisement -
0
  • अपने बेटे के साथ आॅफिस में बैठे थे कोयला व्यापारी
  • नकाबपोश दो बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम पुलिस विभाग में हड़कंप
  • सीओ व ब्रह्मपुरी पुलिस समेत फॉरेंसिक टीम पहुंची मौके पर

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के ध्यानचंद नगर स्थित अपने आॅफिस पर बैठे भाजपा नेता के भाई कोयला व्यापारी की नकाबपोश दो बदमाशों ने दिन गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद दोनों बदमाश बाइक पर सवार होकर फरार हो गए। कोयला व्यापारी की दिनदहाड़े हत्या की सूचना मिलने से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया।

सूचना मिलते ही सीओ ब्रह्मपुरी अमित राय व एसएचओ ब्रह्मपुरी सुभाष अत्री पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और फोरेंसिक टीम बुलाकर मामले की जांच कराई। पुलिस ने मौके से व्यापारी का लैपटॉप व एक मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया है। वहीं मृतक व्यापारी के बेटे ने लूट का विरोध करने पर हत्या करने की तहरीर दी है।

मूल रूप से सरधना निवासी अरुण जैन लंबे समय से अपने दो बेटे आयुष, अक्षत व पत्नी के साथ टीपीनगर थाना क्षेत्र के पंजाबी पुरा स्थित मकान नंबर 94 में रहते है। कोयला व्यापारी अरुण जैन के भाई सरधना निवासी रामभूल जैन भाजपा के वरिष्ठ नेता है। अरुण जैन कोयले के थोक व्यापारी थे और ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के मेजर ध्यानचंद नगर के सेक्टर ए में उनका पारसनाथ मार्केटिंग का आॅफिस है।

बताया गया है अरुण जैन ने तीन दिन पहले ही अपने इस आॅफिस का उद्धाटन किया है। सोमवार को वह अपने बेटे आयुष के साथ आॅफिस में बैठे हुए थे। अरुण जैन आॅफिस के ग्राउंड फ्लोर पर बैठे थे और उनका बेटा आयुष जैन फस्ट फ्लोर पर बैठा हुआ था। जबकि उनका मुनीम रोहित बाहर गेट के पास बैठा हुआ था। रोहित के अनुसार बाइक सवार दो बदमाश आए, जिन्होंने अपने मुंह पर सफेद रंग का गमछा लपेटा हुआ था।

जिन्होंने आॅफिस में आते ही उससे अरुण जैन के बारे में पूछा तो मुनीम ने उन्हें अंदर भेज दिया। बदमाशों ने अरुण जैन के केबिन में घुसने से पहले ही हथियार निकाल लिए, जिन्हे देख मुनीम वहां से भाग गया। इसके बाद बदमाशों ने केबिन में घुसते ही ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। जिसमें दो गोली लगने से अरुण जैन घायल हो गए। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों बदमाश बाइक पर सवार होकर फरार हो गए।

गोलियों की आवाज सुनने के बाद अरुण जैन का बेटा आयुष नीचे आया और बदमाशों के जाने के बाद मुनीम भी वहां पहुंचा। आयुष अपने पिता को लेकर गंभीर हालत में केएमसी अस्पताल लेकर पहुंचा, जहां पर डाक्टरों ने उन्हें अपने यहां भर्ती करने से मना कर दिया। जिसके बाद वह दूसरे अस्पताल में जाने लगे, लेकिन बीच रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। इसके बाद वह पिता के शव को लेकर अपने घर पहुंचा।

इस बीच मुनीम ने डायल 112 पर कॉल कर घटना की जानकारी दी। मौके पर पहुंची डायल 112 की पुलिस ने उच्चाधिकारियों को मामले की जानकारी दी। सूचना मिलते ही सीओ ब्रह्मपुरी व एसएचओ सुभाष अत्री अरुण जैन के घर पहुंचे और शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं फोरेंसिक टीम को बुलाकर घटना स्थल की जांच पड़ताल की।

पुलिस ने आॅफिस से अरुण जैन का लैपटॉप व एक मोबाइल को अपने कब्जे में लिया है। सीओ अमित राय का कहना है कि मृतक अरुण जैन के बेटे आयुष ने तहरीर दी है कि बदमाश लूट के इरादे से आए थे, जब उनका विरोध किया तो बदमाशों ने उनके पिता की हत्या कर दी।

शहर में पुलिस की कमी का बदमाशों ने उठाया फायदा

जिले में चल रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का मतदान कराने के लिए सोमवार को शहर की पुलिस चुनाव ड्यूटी में गई हुई थी। जिस कारण शहर के थानों व चौराहों पर इक्का-दुक्का पुलिसकर्मी ही दिखाई दे रहे थे। शहर में पुलिस की कमी होने का भी फायदा बदमाशों को मिला और कोयला व्यापारी अरुण जैन की दिनदहाड़े गोली मारकर आसानी से फरार हो गए।

आॅफिस में नहीं लगे सीसीटीवी कैमरे

कोयला व्यापारी अरुण जैन ने मेजर ध्यानचंद नगर स्थित अपने आॅफिस का तीन दिन पहले ही उद्घाटन किया था। जिस कारण अभी तक आॅफिस में सीसीटीवी कैमरे नहीं लग सकें थे। जिस कारण पुलिस के सामने अब बदमाशों की शिनाख्त करने की बड़ी चुनौती होगी। हांलाकि पुलिस बदमाशों की धरपकड़ के लिए भरसक प्रयास कर रही है।

जल्द हो अरुण जैन की हत्या का खुलासा

संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष अजय गुप्ता का कहना है कि उन्होंने इस संबंध एसएसपी अजय साहनी, एसपी सिटी विनीत भटनागर व सीओ अमित राय से फोन पर बात की। उन्होंने कोयला व्यापारी अरुण जैन के हत्यारों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग करते हुए उन्हें कड़ी सजा दिलाने को कहा।

बेखौफ हो रहे अपराधी, व्यापारी नहीं सुरक्षित

संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन गुप्ता का कहना है कि इस वक्त अपराधी बेखौफ हो रहे है। इसके बावजूद पुलिस व्यापारियों को कोई सुरक्षा नहीं दे रही है। नाइट कर्फ्यू में जहां पुलिस रातभर सड़कों पर रहती है और अपराधी फिर भी वारदात को अंजाम दे रहे है। ऐसे में पुलिस की नाकामी ही सामने आ रही है। उन्होंने अरुण जैन हत्याकांड के खुलासे की जल्द से जल्द मांग की।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments