Thursday, October 21, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBijnorतीन दिन जिंदगी-मौत से लड़ने के बाद किसान की मौत

तीन दिन जिंदगी-मौत से लड़ने के बाद किसान की मौत

- Advertisement -
  • खेत में गुल्ली-डंडा खेलने को मना करने पर बच्चों के परिजनों ने किसान के साथ की थी मारपीट
  • पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करते हुए मुख्य आरोपी को लिया हिरासत में

जनवाणी टीम |

बिजनौर/रायपुर सादात: क्षेत्र के एक किसान ने अपने गेंहू के खेत में गुल्ली डंडा खेलने से मना किया तो बच्चों के परिजनों ने किसान को लाठी डंडों से हमलाकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घटना के तीन दिन जिदंगी मौत से जूझने के बाद किसान की मौत हो गई। परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस ने घटना के मुख्य आरोपी मलखान सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।

नगीना देहात के ग्राम कोटकादर में बीस नवंबर की दोपहर मलखान का भतीजा गुल्ली डंडा खेल रहा था। गुल्ली बार बार गंगाराम निवासी कोटकादर के गेंहू के खेत में चली जाती थी। इसको लेकर किसान गंगाराम ने बच्चे को डाट फटकार दिया। बच्चों को डाटने को लेकर किसान गंगाराम का बच्चों के परिजनों से विवाद हो गया। ग्रामीणों के हस्ताक्षेप के बाद मामला निपट गया था। कुछ देर बाद गंगाराम घर से बैंक जा रहा था, तभी मलखान ने अपने घर के सामने जैकी व बिट्टू के साथ गंगाराम पर हमला कर दिया।

परिजन घायल अवस्था में गंगाराम को थाने लेकर आए। पुलिस ने घायल हो उपचार के लिए अस्पताल भर्ती कराया। तीन दिन जिंदगी मौत से जुझने के बाद मंगलवार को बुजुर्ग गंगाराम ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। गगांराम के पुत्र सुनील कुमार ने मलखान पुत्र किशन, जैकी पुत्र अनीश, बिट्टू पुत्र गोंविद निवासीगण कोटकादर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। थानाध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने बताया कि पीड़ित परिवार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी मलखान सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments