Thursday, February 25, 2021
Advertisment Booking
Home Uttar Pradesh News Saharanpur चौखट-चौपाल से चौराहों तक चर्चा पंचायत चुनाव की

चौखट-चौपाल से चौराहों तक चर्चा पंचायत चुनाव की

- Advertisement -
0
  • इसी महीने के आखिर में पश्चिम के दौरे पर होंगे विजय बहादुर पाठक
  • भाजपा ने पाठक को पंचायत चुनावों का बनया है प्रदेश प्रभारी

जनवाणी ब्यूरो |

सहारनपुर: सूबे में पंचायत चुनावों की तिथि अभी भले घोषित न की गई हो किंतु तैयारियां तेज कर दी गई हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश पर मतदाता सूचियों की जांच करा ली गई है। गैर जरूरी नामों को हटाने के साथ नए नाम भी लगभग जोड़ दिए गए हैं। इसी महीने के आखिर में वोटर लिस्ट भी जारी की जा सकती है।

फिलहाल, पंचायत चुनावों को लेकर चौखट-चौपाल से चौराहों तक सियासत सुर्ख होने लगी है। अन्य दलों की तुलना में सत्तानशीं भाजपा की कसरत कुछ ज्यादा तेज नजर आ रही है। इस दल के प्रदेश उपाध्यक्ष विजय बहादुर पाठक पश्चिम का जल्द दौरा करने वाले हैं।

बता दें कि उप्र में 58,758 ग्राम पंचायतें हैं। इसी तरह 821 क्षेत्र तो 75 जिला पंचायतें हैं। क्रिसमस डे यानि कि 25 दिसंबर को इन सभी का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। उधर, राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनावों के लिए मतदाता सूचियों की जांच कराने के साथ नए नामों को भी जोड़ने के निर्देश दिए थे।

यह काम लगभग हर जिले में पूरा हो चुका है। समझा जाता है कि मार्च-अप्रैल में चुनाव करा लिए जाएंगे। फिलवक्त, त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों को लेकर विभिन्न राजनीतिक दलों में खदबदाहट तेज हो गई है। चूंकि भाजपा सत्ता प्रतिष्ठान पर काबिज है और विधान सभा उपचुनावों के बाद शिक्षक और स्नातक चुनावों में मिली सफलता के नाते कुछ ज्यादा ही उत्साहित है।

इसलिए शायद इसीलिए अग्रिम पंक्ति के पहरुओं ने पंचायत चुनावों को फतह करने की रणनीति पर काम शुरू कर दिया है। भाजपा ने बहुत सोच-समझ और ठोक-बजाकर पंचायत चुनावों के लिए पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष और सांगठनिक मामलों की मजबूती के लिए माहिर माने जाने वाले विजय बहादुर पाठक को राज्य प्रभारी बनाया है। पूर्वांचल मूल के रहने वाले और राजनीति के बीहड़ अनुभवों के धनी विजय बहादुर पाठक को पश्चिम की गहरी समझ है। पूर्व के चुनावों में भी उनके फैसलों ने साबित किया है कि वह बड़े लडैय्या का भूमिका निभाते हैं।

फिलहाल, पाठक ने ब्रज, अवध, बुंदेलखंड जैसे क्षेत्रों का दौरा कर लिया है और अब वह पश्चिम की ओर रुख कर चुके हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि दिसंबर महीने के आखिर में विजय बहादुर पश्चिमी उप्र के दौरे पर होंगे। यहां वह संगठन के पदाधिकारियों से रायशुमारी करेंगे। टिकट के दावेदारों के नामों पर भी मंथन होगा। इसके लिए पार्टी के जिम्मेदारों से उनकी मंत्रणा बड़े महत्व की होगी। चूं

कि पश्चिमी क्षेत्र का अध्यक्ष मोहित बेनीवाल को बनाया गया है और वह शिक्षक-स्नातक चुनाव में पार्टी उम्मीदवारों को विजयी बनाने में अहम् भूमिका निभा चुके हैं, ऐसे में पाठक के लिए भी पंचायत चुनावों में भाजपा के कमल को खिलाने की बड़ी चुनौती होगी। सांगठनिक कार्यो में दक्ष और राजनीति के गुणा-भाग में माहिर पाठक भी इस बात को भली भांति जान रहे होंगे। फिलहाल, पार्टी में तैयारियां तेज कर दी गई हैं।

भाजपा के महानगर मीडिया प्रभारी गौरव गर्ग ने बताया कि लगातार जीत से भाजपा में उत्साह है। विजय बहादुर पाठक सरीखे नेता के अनुभवों का सभी को लाभ मिलेगा। पार्टी पंचायत चुनावों में फतह करेगी। इस संबंध में फोन पर हुई बातचीत में विजय बहादुर पाठक ने जनवाणी को बताया कि वह सभी जिम्मेदार पदाधिकारियों-कार्यकर्ताओं के सहयोग से पंचायत चुनाव में भाजपा का परचम फहराने में कामयाब होंगे। हालांकि, विरोधी दलों ने भी अपनी चौसर बिछानी शुरू कर दी है। ऐसे में चुनाव संग्राम दिलचस्प होगा।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
2

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments