Wednesday, May 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutशहर में भी डग्गामार वाहनों की खैर नहीं

शहर में भी डग्गामार वाहनों की खैर नहीं

- Advertisement -
  • चलेगा डग्गामार वाहनों के खिलाफ अभियान

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर राजधानी लखनऊ में तो डग्गामार वाहनों के खिलाफ अभियान चल ही रहा हैं, अब मेरठ में भी अभियान चलेगा। छह हजार से ज्यादा ई-रिक्शा सड़कों पर दौड़ रहे हैं, जिसके चलते ट्रैफिक की बड़ी समस्या खड़ी हो गई हैं। ई-रिक्शा भी शहर से हटाये जा सकते हैं, जिनके चलते बड़ी समस्या बनी हुई हैं। थ्री व्हीलर भी अवैध रूप से सड़कों पर दौड़ रहे हैँ, उन पर भी सख्ती की जाएगी।

ऐसे वाहनों को बंद किया जाएगा। लखनऊ में भी आरटीओ और प्रशासन ने संयुक्त टीम बनाकर बड़ी कार्रवाई डग्गामार वाहनों के खिलाफ की थी। अब मेरठ में भी इसी तरह से अभियान चलाया जाएगा। इसके बाद शहर की सड़कों पर भीड़ भाड़ कम दिखाई देगी। बेगमपुल पर भी ई-रिक्शा लाइन लगाकर खड़ी रहती हैं, जिसको ट्रैफिक पुलिस कर्मी भी नियंत्रित नहीं कर पा रहे हैं। इस भीड़ ने बड़ी समस्या शहर में ट्रैफिक की खड़ी कर दी हैं।

वैसे पिछले दिनों भी अभियान अवैध वाहनों के खिलाफ चला था, लेकिन फिर से ये वाहन सड़कों पर आ गए हैं। समस्या का समाधान होता नहीं दिख रहा हैं, जिसके चलते कठोर निर्णय शासन इन्हें हटाने का ले रहा है। कहा जा रहा है कि लखनऊ, कानपुर और आगरा जैसे बड़े शहरों में ट्रैफिक की भीड़ कम करने की दिशा में काम आरंभ कर दिया गया है। इसी वजह से संयुक्त टीम प्रशासन और आरटीओ की बनाई गयी हैं।

बसों पर भी कसेगा शिकंजा

मेरठ से दो दर्जन बसें भी दिल्ली के लिए डग्गामारी में चल रही हैं, जिन पर कोई रोक-टोक नहीं हैं। इन बसों का कलर भी परिवहन विभाग की बसों वाला हैं। बसों पर उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस लिखा हैं। इस तरह से ये बस सड़कों पर बिना-रोकटोक के दौड़ रही है। इन बसों को रोका नहीं जा रहा हैं। आखिर से बस किसकी अनुमति से संचालित हो रही हैं? इन पर भी शिकंजा कसा जा सकता हैं।

सेटिंग का ये खेल कब से चल रहा है, कुछ भी कहना मुश्किल हैं। प्रशासन भी ऐसी बसों को चिन्हित कर रहा हैं। इसके बाद मंगलवार से इन बसों के खिलाफ कार्रवाई का अभियान चलेगा। मेरठ से दिल्ली जाने वाली बसों को रोका जाएगा। संभलकर सड़कों पर निकले, यदि आप इन डग्गामार बसों में सफर कर रहे है तो बीच रास्ते में ही आरटीओ की टीम बस का चालान कर सकती हैं। फिर आपकों बीच रास्ते में दिक्कत हो सकती हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments