Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसड़क हादसे में किसान की मौत, बवाल

सड़क हादसे में किसान की मौत, बवाल

- Advertisement -
  • दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर सेंट्रो कार की चपेट में आया था किसान
  • किसान की मौत पर लोगों ने लगाया जाम, पुलिस ने खुलवाया जाम

जनवाणी संवाददाता  |

मेरठ/परतापुर:  दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर मंगलवार सुबह सड़क पार कर रहे किसान को सेंट्रो कार ने जोरदार टक्कर मार दी। जिससे किसान की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, हादसे के बाद मालिक सेंट्रो कार को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया। किसान की मौत पर ग्रामीणों ने एक्सप्रेस-वे पर जाम लगा दिया। करीब दो घंटे तक लगे जाम के कारण एक्सप्रेस-वे पर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

मौके पर पहुंचे पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने किसी तरह ग्रामीणों को समझाकर मामला शांत कराया। ग्रामीणों की मांग थी कि किसान के परिजनों को उचित मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी मिले। पुलिस ने सेंट्रो को कब्जे में लेने के बाद चालक को हिरासत में लेकर थाने पहुंचा दिया।

मंगलवार सुबह गांव सोलाना निवासी किसान शौकीन खेतों में गन्ना छिलाई के लिए जा रहा था। जब वह पैदल ही एक्सप्रेस-वे को पार करने लगा तो दिल्ली की ओर से तेज गति से आई सेंट्रो कार ने शौकीन को जोरदार टक्कर मार दी। कार शौकीन को काफी दूर तक घसीटते हुए ले गई। जानकारी होने पर टोल एंबुलेंस तत्काल मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक शौकीन की मौत हो चुकी थी।

वहीं, शौकीन की मौत की जानकारी होते ही गांव सोलाना के ग्रामीण एक्सप्रेस-वे पर पहुंचे और दोनों साइड पर जाम लगा दिया। जाम लगाने के बाद किसानों की मांग थी कि मृतक किसान के परिजनों को उचित मुआवजा मिले और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए। दोनों साइड पर जाम लगने के कारण एक्सप्रेस-वे पर दोनों वाहनों की लंबी कतार लग गई।

जिसके बाद किसानों ने एक ओर का रोड खोल दिया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रशासन से उचित मुआवजा दिलाने का आश्वासन मिलने के बाद जाम खुलवाया। इसके बाद ग्रामीण चालक को पीटने के लिए दौड़े, लेकिन पुलिस ने चालक को हिरासत में लेकर थाने पहुंचा दिया।

अंडरपास की खली कमी

सोलाना गांव के सामने एक्सप्रेस-वे पर अंडरपास न होने के कारण ग्रामीणों को दूसरी ओर एक्सप्रेस-वे को पार कर जाना पड़ता है। जिससे ग्रामीणों को अंडरपास की कमी खली है। जिस कारण हर समय यहां हादसा होने का डर बना रहता है। पुलिस ने ग्रामीणों की इस समस्या को प्रशासनिक अधिकारियों के सामने रखने की बात कही है। पुलिस के आश्वासन के बाद ही ग्रामीणों ने जाम खोला, तब जाकर एक्सप्रेस-वे पर वाहनों का आवागमन सुचारू हो सका।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments