Sunday, May 16, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअस्पताल का लाइव प्रसारण हो कितने बेड हैं उपलब्ध: डॉ लक्ष्मीकांत बाजपेई

अस्पताल का लाइव प्रसारण हो कितने बेड हैं उपलब्ध: डॉ लक्ष्मीकांत बाजपेई

- Advertisement -
+1
  • पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक डॉक्टर लक्ष्मीकांत वाजपेई ने दिए प्रभारी मंत्री को विभिन्न सुझाव

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोविड-19 का संक्रमण तीव्र गति से पैर पसार रहा है। देशभर के साथ-साथ मेरठ की स्थिति भी अब काफी विकराल रूप धारण कर चुकी है। इन्हीं बातों को देखते हुए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भाजपा एवं पूर्व शहर विधायक डॉक्टर लक्ष्मीकांत वाजपेई ने प्रभारी एवं ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा को विभिन्न सुझावों से अवगत कराया। ताकि मेरठ में स्थिति को काबू में किया जा सके।

डा लक्ष्मीकांत वाजपेई ने कहा की शहर भर में निजी संस्थानों के खाली पड़े स्थानों के एल-1, एल-2 बेड शुरू करने का सुझाव दिया है। जिसमें की अस्थाई अस्पतालों में फौज के डाक्टर, रिटायर्ड डॉक्टर एवं मेडिकल फाइनल ईयर के छात्रों की सेवाएं ली जा सकती है।

इतना ही उन्होंने बेड की कीमत का जिक्र करते हुए कहा कि एक बेड को स्थापित करने में ₹20000 का खर्च आएगा जो कि विधायकों की विधायक निधि द्वारा स्थापित किए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि मेरठ के अन्य अस्पतालों में नर्सिंग होम को भी चयनित करके उन्हें L1, L2 में परिवर्तित किया जा सकता है। जिससे बड़े अस्पतालों का भार कम किया जा सके।

वहीं दूसरी ओर शहर की बात की जाए तो कोविड-19 लेकर काफी भयंकर स्थिति देखी जा रही है। कोविड-19 मरीज बेड पाने के लिए अस्पतालों के आसपास भटकते रहते हैं ।ऐसी स्थिति में डॉक्टर लक्ष्मीकांत वाजपेई ने सुझाव देते हुए कहा कि अस्पतालों के बाहर इंटरनेट पर इस अस्पताल में किस श्रेणी के कितने बेड है उस पर लाइव डाटा प्रकाशित हो।

जिससे कि अस्पताल में जाने वाले मरीजों को पता हो कि क्या वास्तव में वहां पर बेड है या नहीं। इसी क्रम में उन्होंने बताया कि एक निजी संस्थान में उन्होंने संपर्क किया है वह नि:शुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर देने के लिए तैयार है, उन्हें बस खाली सिलेंडर और ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था चाहिए।

साथ ही उन्होंने अंबाला का उदाहरण पेश करते हुए कहा कि जिस तरीके से अंबाला में मोबाइल बैन के माध्यम से हर मोहल्ले में वैक्सीन का कार्य किया जा रहा है। उस कार्य वहां पर 80 प्रतिशत पात्र लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इसी प्रकार की सुविधा मेरठ जनपद में की जाए। जिससे संक्रमण को रोकने के लिए बेहतरीन कार्य किए जा सके। बता दें कि प्रभारी मंत्री श्रीकांत शर्मा ने सभी सुझावों को सकारात्मक रूप से लिया तथा संभव प्रयास करने के आश्वासन दिया।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments