Wednesday, October 20, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeDelhi NCRनासा ने मार्स जैसे ठिकाने पर एक साल तक रहने के लिए...

नासा ने मार्स जैसे ठिकाने पर एक साल तक रहने के लिए मांगे आवेदन

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: नासा पहले मानव मंगल मिशन की तैयारी में कर रहा है और इसके लिए अमेरिकी एजेंसी ने धरती पर ही मंगल ग्रह के वातावरण जैसा एक विशेष निवास स्थान तैयार कर लिया है।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने मंगल ग्रह जैसे ठिकाने पर एक साल तक रहने के लिए चार लोगों के आवेदन मांगे हैं। यदि आप धरती पर रहते-रहते ऊब गए हैं, तो नासा आपको सुनहरा मौका दे रहा है। दरअसल, नासा मंगल ग्रह पर अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने से पहले उन्हें भविष्य के मिशनों की वास्तविक चुनौतियों के लिए तैयार करना चाहता है।

नासा एक साल के लंबे मिशन के लिए चालक दल के चार सदस्यों की कर रहा है भर्ती

नासा पहले मानव मंगल मिशन की तैयारी में कर रहा है और इसके लिए अमेरिकी एजेंसी ने धरती पर ही मंगल ग्रह के वातावरण जैसा एक विशेष निवास स्थान तैयार कर लिया है। इसमें एक साल के लंबे मिशन के लिए चालक दल के चार सदस्यों की भर्ती कर रहा है और इसके लिए इच्छुक लोगों से शुक्रवार से आवेदन लेना भी शुरू किया है।

मार्स ड्यून अल्फा: धरती पर ही मंगल ग्रह जैसा निवास स्थान

अमेरिका के ह्यूस्टन स्थित जानसन स्पेस सेंटर की एक इमारत में 3डी-प्रिंटर से निवास स्थान तैयार किया है। यह 1,700 वर्ग फीट का मंगल ग्रह जैसा निवास बनाया गया है। बता दें कि ‘मार्स ड्यून अल्फा’ नाम के इस विशेष निवास में चार लोगों को एक साल तक रखा जाएगा। इस दौरान मंगल ग्रह के वातावरण में मानव पर पड़ने वाले प्रभाव का अध्ययन किया जाएगा, ताकि असली मंगल ग्रह पर मानव मिशन भेजने से पहले इन चुनौतियों से निपटने के उपाय तलाशे जा सकें।

अमेरिकी स्पेस एजेंसी ने अपने एक बयान में कहा है कि मंगल ग्रह पर होने वाले मिशन की वास्तविक चुनौतियों की तैयारी में, नासा यह अध्ययन करेगी कि अत्यधिक उत्साहित व्यक्तियों पर जमीन पर तैयार किए गए मंगल ग्रह जैसे कठोर वातावरण में लंबे समय तक रहने पर क्या प्रभाव पड़ता है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments