Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअब स्कूल-कॉलेजों में पढ़ाया जाएगा सड़क सुरक्षा का पाठ

अब स्कूल-कॉलेजों में पढ़ाया जाएगा सड़क सुरक्षा का पाठ

- Advertisement -
  • यूपी में लगातार हो रही सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए प्रदेश सरकार ने लिया निर्णय
  • उच्च शिक्षा विभाग जल्द ही पाठ्यक्रम में करेगा शामिल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: उच्च शिक्षा विभाग जल्द ही सड़क सुरक्षा को कॉलेज पाठ्यक्रम में शामिल करेगा और इससे जुड़े अध्यायों को माध्यमिक और प्राथमिक स्तर या नैतिक शिक्षा की किताब में भी शामिल किया जाएगा। शिक्षा से जुड़े सभी विभाग बहुमूल्य जीवन को बचाने के लिए सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए संयुक्त प्रयास करेंगे। इस संबंध में यूपी के उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय की ओर से सभी विवि को भी निर्देश जारी कर दिए गए है।

जिसमें कहा गया है कि सड़क सुरक्षा पर निबंध प्रतियोगिता सभी स्कूलों और कॉलेजों में एक ही दिन आयोजित की जानी चाहिए और स्कूलों व कॉलेजों में आउच्च शिक्षा विभाग जल्द ही सड़क सुरक्षा को कॉलेज पाठ्यक्रम में शामिल करेगा और इससे जुड़े अध्यायों को माध्यमिक और प्राथमिक स्तर या नैतिक शिक्षा की किताब में भी शामिल किया जाएगा।

शिक्षा से जुड़े सभी विभाग बहुमूल्य जीवन को बचाने के लिए सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए संयुक्त प्रयास करेंगे। यूपी के उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय ने कहा कि 21 जनवरी को होने वाले रन फॉर जी20 कार्यक्रम में सड़क सुरक्षा विषय को भी शामिल किया जाए।

सड़क सुरक्षा पर निबंध प्रतियोगिता आयोजित की जानी चाहिए

मंत्री ने कहा, सड़क सुरक्षा पर निबंध प्रतियोगिता सभी स्कूलों और कॉलेजों में एक ही दिन आयोजित की जानी चाहिए और स्कूलों/कॉलेजों में आयोजित सभा में सड़क सुरक्षा के लिए शपथ दिलाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी संस्थानों में एक साथ इन कार्यक्रमों के आयोजन से प्रयास और अधिक प्रभावी होंगे। उपाध्याय ने एक बयान में कहा कि वर्तमान संदर्भ में सड़क सुरक्षा एक संवेदनशील विषय है, यह जनता के बीच जागरूकता फैलाने का समय है।

योजित सभा में सड़क सुरक्षा के लिए शपथ दिलाई जानी चाहिए। संस्थानों में एक साथ इन कार्यक्रमों के आयोजन से प्रयास और अधिक प्रभावी होंगे। इतना ही नहीं इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्रों को भी सड़क सुरक्षा विषय पर प्रोजेक्ट वर्क दिया जाएगा। इसे नए सत्र से लागू कर दिया जाएगा।

शैक्षिक संस्थानों के बाहर जागरूकता को लगाए होर्डिंग

सड़क सुरक्षा प्रोजेक्ट के साथ-साथ इस बात पर भी जोर दिया जाए कि शहर में सबसे व्यस्त ट्रैफिक वाले चौराहे को किस तरह सुव्यवस्थित किया जा सकता है। सड़क सुरक्षा के लिए विवि व इंजीनियरिंग कॉलेजों के बाहर होर्डिंग भी लगाए जाएंगे। साथ ही जागरूकता के लिए पोस्टरों का उपयोग भी किया जा सकता है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments