Wednesday, July 24, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutउफ! कोविड वैक्सीनेशन के प्रति घटी रुचि

उफ! कोविड वैक्सीनेशन के प्रति घटी रुचि

- Advertisement -
  • वैक्सीनेशन कैम्पों में नहीं पहुंच रहे लोग, शहर से लेकर देहात तक यही स्थिति

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोविड का साया एक बार फिर से लोगों के सिरों पर मंडरा रहा है, लेकिन कई लोग इससे बेपरवाह हैं। देश भर में रोज कोविड के केस अच्छी खासी संख्या में दर्ज किए जा रहे हैं। सरकार ने भी लगातार बढ़ रहे केसों को मद्देनजर रखते हुए लोगों से कोविड वैक्सीन और विशेषकर प्रिकॉशन डोज लेने की अपील की थी। इसके बावजूद लोग फिलहाल कोविड के प्रति लापरवाही बरत रहे हैं।

सरकार कोविड की रोकथाम के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रही है। विशेष दिनों के अलावा आम दिनों में भी कोविड टीकाकरण जारी है। पहले प्रिकॉशन डोज के लिए कुछ धनराशि की बात कही गई थी, लेकिन बाद में पहली और दूसरी डोज की भांति प्रिकॉशन डोज भी लोगों को नि:शुल्क लगाए जाने पर सहमति बनी। इन सब के बावजूद बहुत कम संख्या में लोग वैक्सीनेशन कैम्पों में पहुंच रहे हैं।

मेरठ में रविवार को लगाए गए कोविड के विशेष टीकाकरण के मेगा कैम्प पर ही नजर डालें तो स्थिति खुद ही साफ हो जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित किए गए इस मेगा कैम्प में पूरे मेरठ जिले से कुल 74 हजार लोगों को कोविड का टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था जिसके सापेक्ष मात्र 37 हजार लोग ही इस मेगा कैम्प में पहुंचे। इस प्रकार की स्थिति किसी एक ब्लॉक में नहीं बल्कि पूरे जनपद में देखी जा रही है।

05 21

इस मेगा कैम्प में हालांकि स्वास्थ विभाग ने तीन तीन अच्छे व निम्न परफॉर्मर वाले ब्लॉक भी घोषित किए हैं। वैक्सीनेशन की प्रगति के आधार पर घोषित कि गए इन ब्लॉकों की स्थिति पर यदि नजर डालें तो पहले स्थान पर सरुरपुर (3250 का टीकाकरण), दूसरे स्थान पर सरधना (3022) व तीसरे स्थान पर माछरा (2950) ब्लॉक रहे। इसी प्रकार तीन निम्न स्तर की कवरेज वाले ब्लॉकों पर नजर डालें तो पहले नम्बर पर हस्तिनापुर (1230), दूसरे नम्बर पर खरखौदा (1244) व तीसरे नम्बर पर दौराला (1251) ब्लॉक शामिल हैं।

इसी प्रकार शहरी क्षेत्र में भी स्वास्थ्य विभाग के आंकलन के अनुसार अच्छी परफॉर्मेंस देने वाली यूनिटों में पहले नम्बर पर ब्रह्मपुरी (1218), दूसरे नम्बर पर तारापुरी (1040) व तीसरे नम्बर पर कंकरखेड़ा (1035) यूनिट शामिल हैं। इसी प्रकार तीन निम्न कवरेज वाले क्षेत्रों में पहले नम्बर पर तहसील यूनिट है जहां मात्र 48 लोगों ने अपना टीकाकरण करवाया। दूसरे नम्बर पर पल्हेड़ा है जहां सिर्फ 265 लोगों का टीकाकरण हो पाया और तीसरे नम्बर पर जयभीम नगर रहा जहां सिर्फ 320 लोग ही टीकाकरण के लिए पहुंचे।

डीआईओ भी खफा

कोविड के मेगा टीकाकरण कैम्प में लो कवरेज वाले ब्लाकों व यूनिटों को लेकर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने भी नाराजगी जताई है। उन्होंने लो कवरेज वाले क्षेत्रों के अधिकारियों से कहा है कि अगले रविवार को होने वाले कोविड मेगा कैम्प के लिए पुन: रणनीति बनाए, विवेचना करें कि कहां कमी रह गई है और इसके लिए अच्छी माइक्रोप्लानिंग भी करें।

मास्क तो भूले, सोशल डिस्टेंसिंग भी धड़ाम

कोविड के बढ़ते केसों के मद्देनजर जहां सरकार लोगों से काविड नियमों के पालन की लगातार अपीलें कर रही है। वहीं, दूसरी ओर बड़ी संख्या में लोग कोविड गाइडलाइन को फॉलो करने से परहेज कर रहे हैं। अधिकतर लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं जबकि सोशल डिस्टेंसिंग भी लोग भूल चुके हैं। बाजारों में खूब भीड़ उमड़ रही है।

कोरोना के 9 नए मामले, एक्टिव केस 83

मेरठ: कोरोना के नए मामले सामने आने का सिलसिला लगातार जारी है। सोमवार को फिर से 9 संक्रमित सामने आए हैं। जिसके बाद एक्टिव केसों की संख्या 83 हो गई। स्वास्थ्य विभाग से जारी आंकड़ों के अनुसार जिले से कुल 2053 सैंपल जांच के लिए पहुंचे, जबकि 2301 सैंपलों की जांच की गई। इनमें से 9 सैंपल पॉजिटिव पाए गए।

जबकि 15 मरीज ठीक भी हुए। जिसके बाद एक्टिव केसों की संख्या 83 हो गई। इनमें से 10 मरीजों का इलाज अस्पतालों में चल रहा है। जबकि 73 मरीजों को उनके घरों पर स्वास्थ्य लाभ दिया जा रहा है। नोडल अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि नए मरीजों में एक चिकित्सक भी शामिल हैं, जो मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं।

यहां मिले नए मरीज

जाहिदपुर में 1, जयभीम नगर में 2, कसेरू बक्सर में 1, पल्हैड़ा में 2, परीक्षितगढ़ में 1, राजेन्द्र नगर व संजय नगर में एक-एक मरीज मिला है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments