Sunday, October 17, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliरामपाल और बिजेंद्र बने छह-छह माह के अध्यक्ष

रामपाल और बिजेंद्र बने छह-छह माह के अध्यक्ष

- Advertisement -
  • जिला बार संघ चुनाव में दोनों को मिले बराबर वोट
  • महासचिव सतेंद्र और कोषाध्यक्ष कृष्ण दत्त निर्वाचित

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: जिला बार एसोसिएशन शामली के चुनाव में बुधवार को अध्यक्ष महासचिव, और कोषाध्यक्ष पद के लिए मतदान हुआ। अध्यक्ष और महासचिव पद पर प्रत्याशियों के बीच कांटे का मुकाबला हुआ। अध्यक्ष पद पर ठाकुर रामपाल सिंह पुंडीर और बिजेंद्र कुमार दोनों को 65-65 बराबर वोट मिले।

प्रत्याशियों की आपसी सहमति के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त ने अध्यक्ष पद पर दोनों प्रत्याशियों के छह-छह माह के विजयी घोषित किया। महासचिव पद पर सतेंद्र देशवाल विजयी रहे। कोषाध्यक्ष पद पर कृष्ण दत्त शर्मा विजयी रहे। अधिवक्ताओं ने विजयी प्रत्याशियों का फूल मालाओं से स्वागत किया। विजेताओं ने बार संघ के हित में कार्य करने की घोषणा की।

बुधवार को जिला बार एसोसिएशन का चुनाव मुख्य चुनाव आयुक्त मुकेश गर्ग, चुनाव आयुक्त जयपाल सिंह चौहान तथा रवि चौधरी की देखरेख में शांतिपूर्वक संपन्न हुआ। मतदान के बाद ही मतगणना प्रारंभ हो गई थी। जिला बार एसोसिएशन के चुनाव में 156 अधिवक्ताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

अध्यक्ष पद के लिए ठाकुर रामपाल सिंह को 65, बिजेंद्र कुमार को 65 बराबर वोट मिले। जबकि श्रीपाल बालियान को 24 और चंद्रभान सिंह को मात्र दो वोट मिले। महासचिव पद के सतेंद्र देशवल ने 77 मत प्राप्त कर अपने प्रतिद्वंदी जगदेव सिंह को 01 वोट से हराया।

जबकि तीन अधिवक्ताओं ने नोटा का प्रयोग किया। कोषाध्यक्ष पद के लिए कृष्णदत्त शर्मा ने 79 वोट प्राप्त कर अपने प्रतिद्वंदी सत्यदेव मैथल को 27 मतों से हराया। जबकि चाहन खान को मात्र 25 वोट मिले। अध्यक्ष पद के लिए ठाकुर रामपाल सिंह पुंडीर और बिजेंद्र कुमार को बराबर 65-65 वोट मिले थे।

जिसके बाद दोनों प्रत्याशियों की आपसी सहमति के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त मुकेश कुमार गर्ग ने दोनों प्रत्याशियों को छह-छह माह के कार्यकाल के लिए विजेता घोषित किया। सभी विजेताओं का अधिवक्ताओं ने फूल मालाओं से स्वागत किया। नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने बार संघ के हित में कार्य करने की घोषणा की।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments