Saturday, December 4, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeBusiness Newsसेंसेक्स पहली बार 45,000 अंक के पार 

सेंसेक्स पहली बार 45,000 अंक के पार 

- Advertisement -

सेंसेक्स 447 अंक बढ़ा और निफ्टी 13,258.55 अंक पर बंद 

मुंबई, भाषा: भारतीय रिजर्व बैंक के लगातार तीसरी बार नीतिगत ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखने के बीच शुक्रवार को शेयर बाजारों में जबरदस्त लिवाली का रुख रहा। सेंसेक्स 447 अंक की बढ़त के साथ पहली बार 45,000 अंक के पार और निफ्टी 13,250 अंक से ऊपर बंद हुआ।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 45,148.28 अंक के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया। बाद में 446.90 अंक यानी एक प्रतिशत की बढ़त के साथ 45,079.55 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 125.65 अंक यानी 0.95 प्रतिशत बढ़कर 13,258.55 अंक पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान इसने भी 13,280.05 अंक के उच्च स्तर को छुआ। मुद्रास्फीति में तेजी बने रहने के बीच आरबीआई ने द्विमासिक मौद्रिक नीति जारी की। इसमें नीतिगत दरों को यथावत रखा गया। वहीं आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मौद्रिक नीति समिति ने जब तक जरूरी हो तब तक मौद्रिक नीति के लिए नरम रुख रखने का निर्णय किया है। इससे लगाता है कि केंद्रीय बैंक का यह रुख कम से कम चालू वित्त वर्ष और बहुत हद तक अगले साल भी जारी रह सकता है। हालांकि केंद्रीय बैंक ने कहा कि चालू तिमाही में अर्थव्यवस्था वृद्धि की राह पर पुन: लौट सकती है और देश की अर्थव्यवस्था महामारी के बाद तेजी से सुधार की राह पर है। रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष के अंत तक देश की अर्थव्यवस्था में 7.5 प्रतिशत की गिरावट रहने का अनुमान जताया है। यह उसके अक्टूबर के 9.5 प्रतिशत की गिरावट के अनुमान से कम है। सेंसेक्स में शामिल आईसीआईसीआई बैंक सबसे अधिक लाभ में रहा। इसका शेयर करीब चार प्रतिशत चढ़ा। वहीं अल्ट्राटेक सीमेंट, सन फार्मा, भारती एयरटेल, हिंदुस्तान युनिलीवर, भारतीय स्टेट बैंक, एलएंडटी, एक्सिस बैंक और इंडसइंड बैंक भी लाभ में रहे। हालांकि रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज फिनजर्व, एचसीएल और एचडीएफसी में गिरावट रही। छुट्टी के कारण कम कारोबारी दिन वाले इस सप्ताह में सेंसेक्स में कुल 929.83 अंक यानी 2.10 प्रतिशत, जबकि निफ्टी में 289.60 अंक यानी 2.23 प्रतिशत की बढ़त देखी गई। जियोजित फानेंशियल सर्विसेस में शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि रिजर्व बैंक के नीतिगत दरों को अपरिवर्तित रखने और चालू एवं अगले साल में रुख को नरम रखने के निर्णय को बाजार ने उत्साह से लिया। निकट अवधि में दरों में कटौती की संभावना मुद्रास्फीति के ऊंचे रहने के स्तर को लेकर समझी जा सकती है। हालांकि रिजर्व बैंक ने समय पर बाजार को पर्याप्त नकदी समर्थन सुनिश्चित करने पर सकारात्मक रुख दिखाया। इस बीच एशिया के अन्य बाजार मसलन शंघाई, हांगकांग और सियोल के बाजार लाभ में रहे। हालांकि टोक्यो में रही। यूरोपीय बाजार भी बढ़त के साथ खुले। इस बीच अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट कच्चा तेल 1.81 प्रतिशत चढ़कर 49.59 डॉलर प्रति बैरल रहा। लगातार दो दिन गिरावट के बाद रुपया शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले 13 पैसे की मजबूती के साथ 73.80 पर बंद हुआ।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments