Friday, July 19, 2024
- Advertisement -
HomeNational Newsरूस-यूक्रेन संकट के बीच फंसे मेरठ के छात्र

रूस-यूक्रेन संकट के बीच फंसे मेरठ के छात्र

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: रूस ने गुरुवार को यूक्रेन पर हमला बोल दिया। मेरठ के कई छात्र यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हैं, हमले के बाद वे वहां फंस गए हैं। शहर के मलियाना निवासी उपन्यासकार विनोद प्रभाकर के बेटे प्रियांशु प्रभाकर का 25 फरवरी का टिकट था, लेकिन यूक्रेन में एयरपोर्ट खाली करा लिए गए। जिससे प्रियांशु के भारत आने की उम्मीद को झटका लगा है।

प्रियांशु लगातार फोन पर परिजनों के संपर्क में हैं। प्रियांशु ने परिजनों को बताया सभी भारतीय छात्रों को यूनिवर्सिटी कैंपस में एकत्रित कर लिया गया है, जबकि कैंपस के ऊपर से रूस के लड़ाकू विमान गुजर रहे हैं। हालांकि रूस के हमले का केंद्र सेना है, जिससे वह सुरक्षित हैं। लेकिन खतरा पुरी तरह बना हुआ है। तीन दिन ये युद्ध चलने की आशंका लग रही है।

यूक्रेन की डिग्री लेने गया, लगता है रूस की डिग्री लेकर लौटेगा

पिता विनोद प्रभाकर ने कहा हमने तो यूक्रेन की डिग्री लेने भेजा था, अब लगता है कि बेटा प्रियांशु रूस की डिग्री लेकर लौटेगा। उन्होंने मामले में केंद्र सरकार पर बेरुखी करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा यूक्रेन का हवाई यात्रा का टिकट 30 हजार से दो गुना 60 हजार कर दिया गया।

कहा कि सरकार को जिम्मेदारी उठाते हुए यूक्रेन गए भारतीय 25-30 हजार छात्रों को निशुल्क भारत लाने का प्रबंध कराना चाहिए था। लेकिन सरकार ने मामले को गम्भीरता से नहीं लिया। आज हजारों छात्रों के परिवार डर के कारण परेशान हैं। सभी अपने बच्चों के सुरक्षित रहने की प्रार्थना कर रहे हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments