Friday, April 23, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBijnorअवैध वसूली के आरोप में जाफराबाद चौकी प्रभारी सहित तीन निलंबित

अवैध वसूली के आरोप में जाफराबाद चौकी प्रभारी सहित तीन निलंबित

- Advertisement -
0
  • चौकी प्रभारी सहित 6 पर मुकदमा दर्ज
  • डीआईजी कार्यालय की पुलिस टीम ने की रिपोर्ट पर हुई कार्रवाई
  • शिथिल पर्यवेक्षण के आरोप में कोतवाल भी हुए निलंबित

जनवाणी संवाददाता |

नजीबाबाद: कोतवाली थाना नजीबाबाद क्षेत्र के अंतर्गत नजीबाबाद-कोटद्वार मार्ग पर स्थित जाफराबाद चौकी पर तैनात दारोगा सहित दो पुलिसकर्मियों को अवैध उगाही के आरोप में निलंबित कर दिया है। वहीं कोतवाली प्रभारी निरीक्षक को भी शिथिल पर्यवेक्षण के आरोप में निलंबित कर दिया है।

इसके साथ ही डीआईजी के निर्देश पर आयी टीम प्रभारी की ओर से जाफराबाद चौकी प्रभारी रामेश्वर सिंह, दो कांस्टेबल व तीन प्राइवेट व्यक्तियों को मौके पर पुलिस के लिए वसूली में लिप्त पाते हुए उन सहित 6 लोगों पर भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। मामले की विवेचना सीओ नजीबाबाद को सौंपी गई है।

पुलिस उपमहानिरीक्षक मुरादाबाद परिक्षेत्र मुरादाबाद को जाफराबाद चौकी पर अवैध वसूली की शिकायत मिलने पर उनके निर्देश पर उनके कार्यालय की टीम ने बुधवार/गुरुवार को रात्रि जाफराबाद चौकी पर पहले गोपनीय निरीक्षण करते हुए मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों व सादे वस्त्रों में 3 लोगों को बेरियर लगाकर अवैध वसूली करते हुए पाया।

निरीक्षक राहुल कुमार सिंह ने टीम के साथ जाफराबाद चौकी पर पहुंच कर पाया कि जाफराबाद चौकी पर पुलिस द्वारा बैरियर लगा रखा है तथा सादे वस्त्रों में तीन व्यक्ति मौजूद है जिसमें एक के हाथ में टॉर्च है और वह व्यक्ति सड़क पर आने जाने वाले वाहनों को टॉर्च की रोशनी से इशारा कर अवैध वसूली कर रहे हैं।

जिसकी सूचना उन्होंने फ़ोन पर डीआईजी को दी। जिसकी पुष्टि होने पर डी आई जी के निर्देश पर कार्रवाई के निर्देश दिए गए। तब पुलिस टीम ने घेराबंदी कर मौके पर प्राइवेट रूप से तैनात किए गए तीन लोगों को मौके पर पकड़ कर जब उनसे पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि जाफराबाद चौकी पर तैनात दरोगा व पुलिसकर्मी उनसे कोटद्वार आने जाने वाले वाहनों से उगाही कराते हैं जिसमें सब्जी के छोटे वाहन से 100 रुपए व बड़े वाहनों से 200 रुपए वसूल किए जाते हैं।

उनकी धरपकड़ की भनक मिलने पर दोनों पुलिस कर्मी मौके से फरार हो गए। पुलिस टीम द्वारा पूछताछ में उन्होंने अपने नाम सचिन शर्मा पुत्र रवि दत्त शर्मा निवासी जाब्ता गंज, हर्षवर्धन पुत्र महेंद्र ग्राम सलमाबाद थाना कोतवाली बिजनौर, जाकिर पुत्र अब्दुल शकूर निवासी जाब्तागंज बताया। डी आई जी कार्यालय की पुलिस टीम द्वारा की गई छापेमारी में तीनों की जेब से अवैध वसूल की गई धनराशि बरामद की गई।

डीआईजी कार्यालय टीम के निरीक्षक राहुल कुमार सिंह की ओर से जिन छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है उनमें सचिन, हर्षवर्धन, शाक़िर प्राइवेट रूप से पुलिस के लिए उगाही करने के आरोपी, उप निरीक्षक रामेश्वर सिंह, कॉन्स्टेबल जफरुद्दीन, व कांस्टेबल आशीष शामिल है। दर्ज कराई गई रिपोर्ट में अवैध वसूली की बरामद की गई धनराशि 26450 रुपए बताई गई है।

उधर मामले की जानकारी मिलने पर एसपी बिजनौर के आदेश पर दारोगा रामेश्वर सिंह दोनों आरक्षी जफरूदीन व आशीष कुमार को तत्काल प्रभाव से अवैध वसूली में निलंबित कर दिया गया है। धारा 384 भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 7 /13 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

मामले की विवेचना सीओ नजीबाबाद को सौंपी गई है। जांच टीम में डीआईजी कार्यालय के निरीक्षक राहुल कुमार, एसआई नीरज शर्मा, लोकेश त्यागी शामिल रहे। वहीं शिथिल पर्यवेक्षण के आरोप में कोतवाल सत्य प्रकाश सिंह को भी निलम्बित किया गया है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments