Sunday, June 13, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliगौवंश को बचाने के प्रयास में ट्रैक्टर पलटा चालक की मौत

गौवंश को बचाने के प्रयास में ट्रैक्टर पलटा चालक की मौत

- Advertisement -
0
  • कुरूक्षेत्र एजेंसी जेवर एजेंसी पर ट्रैक्टर ले जा रहा था चालक

जनवाणी संवाददाता |

झिंझाना: मेरठ-करनाल हाइवे पर स्थित सींगरा गांव में आवारा गौवंश को बचाने के प्रयास में ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर चढ़कर पलट गया है। जिसमें ट्रैक्टर चालक की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा दिया। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

मंगलवार की सुबह मेरठ-करनाल हाईवे के गांव सींगरा में करनाल की ओर से आ रहे ट्रैक्टर चालक ने अचानक सड़क पर आए आवारा गौवंश को बचाने का प्रयास किया लेकिन अनियंत्रित होकर ट्रैक्टर डिवाइडर पर चढ़कर पलट गया। ट्रैक्टर के नीचे दबने से चालक की मौत हो गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने चालक को ट्रैक्टर के नीचे से निकाला। जेब से मिले कागजात के अनुसार मृतक की शिनाख्त अंग्रेज सिंह (38) पुत्र सलेकचंद निवासी गांव बनी लाड़वा कुरुक्षेत्र हरियाणा के रुप में हुई।

पुलिस ने परिजनों को घटना की जानकारी दी। वहीं पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। परिजनों के मुताबिक चालक अंगे्रज सिंह कुरुक्षेत्र की ट्रैक्टर एजेंसी से ट्रैक्टर लेकर उत्तर प्रदेश के जेवर में एजेंसी पर छोड़ने के लिए जा रहा था। बताया गया है कि आवारा गोवंश बचाने के चक्कर में ट्रैक्टर डिवाइडर पर चढ़ कर पलट गया था जिसमें अंग्रेज सिंह की मौत हो गई। कार्यवाहक थाना प्रभारी तूफान सिंह भाटी ने बताया की शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया गया है। वहीं शाम के समय परिजन पोस्टमार्टम के बाद शव अपने साथ ले गए थे।

दौरा पड़ने पर उपचार न मिलने से अधेड़ की मौत

शहर के फव्वारा चौक पर एक अधेड़ का शव मिलने से सनसनी फैल गई। मंगलवार की सुबह को पुलिस फव्वारा चौक पर ड्यूटी पर पहुंची थी। तब पुलिस ने सड़क किनारे एक व्यक्ति को पड़ा देखकर उठाने का प्रयास किया। बाद में पुलिस ने उसे शामली सीएचसी पहुंचाया तो चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने जेब से मिली एक डायरी में लिखे नंबर पर बात को तो युवक मानव ने मृतक को अपना भाई बताते हुए उसका नाम विनय कुमार निवासी नई बस्ती थानाभवन बताया।

मानव ने बताया कि उसके भाई विनय को दौरे पड़ते थे। दौरा पड़ने पर समय पर उपचार न मिलने से शायद उसकी मौत हो गई। परिजनों ने किसी पुलिस कार्रवाई से इंकार कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर परिजनों को सौंप दिया।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments