Wednesday, June 16, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliवैक्सीनेशन न होने पर नागरिकों का हंगामा, मायूस लौटे

वैक्सीनेशन न होने पर नागरिकों का हंगामा, मायूस लौटे

- Advertisement -
0
  • 12 से 16 सप्ताह में लगेगी कोविशील्ड की दूसरी डोज

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: उत्तर रेलवे स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और राजकीय महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज में चल रहे वैक्सीनेशन सेंटरों पर वैक्सीन की द्वितीय डोज लगवाने पहुंचे दर्जनों लोगों को बिना वैक्सीनेशन ही वापस लौटना पड़ा। जिस पर उत्तर रेलवे अस्पताल में नागरिकों ने हंगामा कर वैक्सीन लगवाने की मांग की।

मंगलवार को उत्तर रेलवे स्वास्थ्य में करीब दो दर्जन से अधिक महिलाएं व पुरूष ने वैक्सीनेशन कराने पहुंचे। इनमें कुछ लोग द्वितीय डोज लगवाने वाले थे तो कुछ प्रथम डोज लगवाने वाले शामिल थे। वैक्सीनेशन न होने पर कुछ लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया।

वैक्सीनेशन कराने पहुंचे संजीव गोयल, भोपाल सिंह, रितिक, मौहम्मद यामीन, राकेश कुमार, राजेश कुमार, बेबी, संतोष, गंगाराम आदि का आरोप है कि उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की वेबसाईट पर वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था।

जिस पर राजकीय रेलवे अस्पताल में वैक्सीनेशन करने की तिथि दी गई थी, लेकिन चिकित्सकों ने दो घंटे प्रतीक्षा कराने के बाद वैैक्सीनेशन के लिए टीका उपलब्ध न होने का हवाला देकर अग्रिम तिथि लेने की बात देकर वापस लौटा दिया। आरोप है कि पहले भी वह रजिस्ट्रेशन कराकर टीका लगवाने के लिए आ चुका है, लेकिन पहले भी टीका न होने का हवाले देते हुए वापस भेज दिया गया था।

दूसरी ओर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर और राजकीय महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज के वैक्सीन सेंटर पर बड़ी संख्या में दूसरी डोज लगवाने पहुुंचे लोगों के वैक्सीन कार्ड पर अग्रिम तिथियां अंकित कर वापस लौटा दिया गया।

12 से 16 सप्ताह में कोविशील्ड की दूसरी डोज

मुख्य चिकित्सा अधिकारी शामली डा. संजय अग्रवाल ने राज्य स्तर से प्राप्त दिशा निदेर्शों का हवाला देते हुए बताया कि कॉविड 19 के अंतर्गत आयोजित कोविशील्ड वैक्सीन की द्वितीय डोज 12 से 16 सप्ताह पर (प्रथम डोज की दिनांक से) एवं को-वैक्सीन की द्वितीय डोज 28 दिवस के उपरांत लगाई जाएगी।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments