Monday, June 14, 2021
- Advertisement -
HomeUttarakhand NewsHaridwarदेवप्रयाग के बाद उत्तराखंड के कैंची में बादल फटने से तबाही

देवप्रयाग के बाद उत्तराखंड के कैंची में बादल फटने से तबाही

- Advertisement -
0
  • पुलिस-प्रशासन ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए खैरना पर ही सभी वाहनों को रोका 
  • बुधवार को ही कैंची धाम ट्रस्ट ने वार्षिक मेले के आयोजन को कर दिया था कैंसल 

जनवाणी टीम |

हल्द्वानी/हरिद्वार: देवप्रयाग के बाद कैंची में बादल फटने की सूचना आई है। कैची हल्द्वानी से लगभग 45 किलोमीटर दूर है।बारिश के बाद मंदिर परिसर के अंदर मलबा भर गया है। वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग भी भारी मलबा आने से बंद हो गया है।

पुलिस-प्रशासन ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए खैरना पर ही सभी वाहनों को रोक दिया गया है। अब इस राष्ट्रीय राजमार्ग के सभी वाहन मोना नथुवाखान होते हुए हल्द्वानी को भेजे जा रहे हैं। कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

फिलहाल किसी की भी जान माल के नुकसान की जानकारी सामने नहीं आई है। गनीमत रही कि कोरोना कर्फ्यू होने के चलते हाईवे पर ज्यादा वाहनों का संचालन नहीं हो रहा है, अन्यथा कोई बढ़ा हादसा हो सकता था। क्योंकि बारिश के बाद मलवा मुख्य मार्ग पर भी जमा हो गया है।

पिछले कुछ वक्त से उत्तराखंड के कई इलाकों में बादल फटने की घटनाए सामने आई हैं। बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए बुधवार को ही कैंची धाम ट्रस्ट ने वार्षिक मेले के आयोजन को कैंसल कर दिया था।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments