Monday, October 3, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSडब्ल्यूएचओ प्रमुख और डॉ. पाल ने दी चेतावनी, कोरोना से मौतें 35...

डब्ल्यूएचओ प्रमुख और डॉ. पाल ने दी चेतावनी, कोरोना से मौतें 35 फीसदी बढ़ीं

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। पिछले चार सप्ताहों में दुनियाभर में इस महामारी से मौतों की संख्या में 35 फीसदी की चिंताजनक बढ़ोतरी हुई है। इसे देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख डॉक्टर टेड्रोस घेब्रेयसस ने दुनियाभर के लोगों के लिए वीडियो संदेश जारी कर फिर चेताया है।

यह लगातार तीसरा साल है, जब कोविड-19 वायरस समूची दुनिया के लिए चिंता का सबब बना हुआ है। कोरोना महामारी को लेकर महामारी विशेषज्ञ व नेता बार-बार कह रहे हैं कि हमें कोरोना के साथ जीना सीखना होगा। इस पर घेब्रेयसस ने कहा कि हम यह नहीं मान लें कि बीमारी खत्म हो गई है। हमें इससे खुद के और दूसरों के बचाव के लिए साधनों से हमेशा लैस रहना होगा। घेब्रेयसस ने अपने ताजा संदेश में कहा, ‘हम सब कोरोना वायरस व महामारी से थक व उब गए हैं, लेकिन यह वायरस अभी नहीं थका है।’

ओमिक्रॉन अब भी प्रमुख वैरिएंट

कोरोना का ओमिक्रॉन वैरिएंट अब भी प्रमुख वैरिएंट बना हुआ है। पिछले एक महीने में, BA.5 सब स्ट्रेन 90 फीसदी से अधिक नमूनों में मिला है। अपने वीडियो संदेश में डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा- ‘एक चार सप्ताह में 15,000 लोगों ने कोविड से जान गंवाई। यह संख्या बर्दाश्त के बाहर है, क्योंकि हमारे पास संक्रमण को रोकने और लोगों की जान बचाने के लिए सारे संसाधन हैं। हम में से कोई भी असहाय नहीं है।

प्रत्येक व्यक्ति टीका लगवाए और जरूरत पड़ने पर बूस्टर (खुराक) लें। मास्क पहनें और सुरक्षित शारीरिक दूरी बनाए रखें।’ उन्होंने निराश होकर यह भी कहा कि अस्पतालों की बढ़ती संख्या के बावजूद हम टीकों की असमान पहुंच के साथ नहीं रह सकते हैं।

अब तक 59 करोड़ लोग संक्रमित

कोरोना महामारी से अब तक दुनियाभर में 59 करोड़ से अधिक संक्रमित हो चुके हैं। इस दौरान 64 लाख से अधिक मौतें हुई हैं। अमेरिका में सबसे ज्यादा 9.3 करोड़ से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं। भारत में लगभग 4.4 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं।

बूस्टर खुराक समेत सभी एहतियात आवश्यक: डॉ पाल

इस बीच, भारतीय नीति आयोग के सदस्य स्वास्थ्य डॉ. वीके पाल ने कहा है कि कोविड-19 महामारी अब भी मौजूद है। यह पिछले कुछ सप्ताहों में बढ़ रहा है, इसलिए टीके की बूस्टर खुराक समेत सभी आवश्यक उपाय करना जरूरी है। इनमें मास्क व सुरक्षित शारीरिक दूरी भी शामिल है। उन्होंने कहा कि र्कोबेवैक्स टीके को बूस्टर खुराक के रूप में मंजूरी दी गई है। यह पूर्व में अन्य टीकों की खुराक लेने वाले भी लगवा सकते हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments