Friday, January 28, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutआखिर कौन है इस खानापूर्ति का जिम्मेदार ?

आखिर कौन है इस खानापूर्ति का जिम्मेदार ?

- Advertisement -
  • 10 दिन में ही मरम्मत कार्य की उड़ीं धज्जियां
  • जुर्रानपुर फाटक पर उखड़ गई हाल ही में बनी सड़क

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: शहर में सड़क निर्माण के कार्य में घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है। यहां अधिकारी अपनी जेबों को भरने के लिये आम जनता की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं। अभी हाल ही की बात करें तो कुछ दिन पूर्व जुर्रानपुर रेलवे फाटक पर सड़क का मरम्मत कार्य किया गया था, लेकिन यहां 10 दिन में ही वह सड़क फिर टूट गई और रोड़ियां उखड़कर सड़क पर फैल रही हैं। यहां नौचंदी, संगम समेत कई मालगाड़ियों तक इस ट्रैक से निकलती है अगर यहां कोई हादसा होता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा।

शहर में सड़क निर्माण कार्य में जमकर लापरवाही की जा रही है। एक या दो नहीं कई मामले ऐसे प्रकाश में आ चुके हैं। जिनमें एक दिन पहले ही सड़क बनी और अगले दिन सड़क पर रोड़ियों बिखरी मिली। जिससे कई वाहन चालक तक घायल हो गये हैं। उसके बावजूद अधिकारियों की ओर से यह मामले गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है। अभी हाल ही की बात करें तो दो मामले प्रकाश में आये हैं। जिनमें एक जुर्रानपुर फाटक और दूसरी मोहनपुरी नाले वाला रोड है जहां सड़क बनने के बाद तरंत ही हालात बिगड़ गये।

रेलवे फाटक के पास हो गये सड़क में गड्ढे

अभी बीते माह के आखिर में ही जुर्रानपुर रेलवे क्रोसिंग के दोनों ओर सड़क का मरम्मत कार्य किया गया था। यहां मरम्मत कार्य के दौरान दो दिनों तक ट्रैफिक बंद रखा गया था। फाटक से प्रतिदिन 50 हजार से भी अधिक वाहनों का आवगमन होता है। यहां वाहनों को अधिक दबाव रहता है। जिस कारण यहां दो सालों में ठीक होने वाला कार्य हर साल कराया जाता है। यहां जुर्रानपुर फाटक के पास हर साल सड़क और रेलवे क्रॉसिंग पर मरम्मत का कार्य किया जाता है। जिसके चलते ट्रैफिक भी बंद रहता है। यहां पिछले माह के आखिर में ही मरम्मत कर करीब 50-50 मीटर सड़का का टुकड़ा रेलवे क्रॉसिंग के दोनों ओर बनाया गया, लेकिन अभी 10 से 15 दिन ही हुए होंगे इस निर्माण कार्य को लेकिन यहां फाटक के पास ही कई कई फीट गहरे गड्ढे सड़क पर हो गये हैं। जिससे यहां हालात खराब हो गये हैं।

ओवरब्रिज बने तो बने बात

जुर्रानपुर में रेलवे लाइन के ऊपर से ओवरब्रिज का कार्य भी कई साल पूर्व शुरू हुआ था, लेकिन यह कार्य अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। यहां सालों से कार्य अटका पड़ा है। इसको लेकर शहर में दो राज्यसभा सांसद, एक लोकसभा सांसद और छह सत्ताधारी विधायकों के होने के बावजूद अभी तक यहां ओवरब्रिज का कार्य पूरा नहीं हो पाया है।

कभी हो सकती है बड़ी दुर्घटना

रेलवे क्रॉसिंग के पास ही पांच फीट के गहरे गड्ढे हुए हैं। जिस कारण यहां रोड़ियां भी सड़क पर फैल गई हैं और तो और रेलवे लाइन में ही बीचोंबीच गड्ढा हो गया है। जिस कारण आने जाने वाले वाहन चालकों को भी परेशानी हो रही है। यहां से कई एक्सप्रेस ट्रेनें और मालगड़ियां इस ट्रैक से गुजरती हैं। अगर जल्द ही इस ट्रक पर कार्य नहीं सुधारा गया तो यहां कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। जिसका जिम्मेदार सिर्फ प्रशासन ही होगा, लेकिन प्रशासन शायद कुंभकर्णी नींद में है, हादसे के बाद ही जागेगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments