Thursday, October 21, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBijnorहाई-वे पर गड्ढा दे रहा हादसों को दावत

हाई-वे पर गड्ढा दे रहा हादसों को दावत

- Advertisement -
  • बरसात के पानी से हो रहा सड़क किनारे मिट्टी कटान

जनवाणी संवाददाता |

नजीबाबाद: बरसात के पानी से सड़क के किनारे लगातार हुए मिट्टी कटान के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग पर बने गड्ढे खुलेआम हादसों को दावत दे रहे हैं। ग्रामीणों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों को दुर्घटनाग्रस्त होने से रोकने को सम्बन्धित अधिकारियों से तुरंत गड्ढों का भरान कराए जाने की मांग की है।

राष्ट्रीय राजमार्ग-74 पर नजीबाबाद-हरिद्वार के बीच मंडावली थाना क्षेत्र में सड़क के किनारे बरसात के दिनों में हुए मिट्टी कटान से गहरे गड्ढे बन चुके हैं। सड़क किनारे बने उक्त गड्ढे दुर्घटनाओं को दावत दे रहे हैं। ग्रामीणों के मुताबिक बरसात के दिनों में सड़क पर जमा पानी एक ही स्थान से होकर बाहर की ओर बहने से उक्त राजमार्ग पर कई स्थानों पर सड़क के किनारों पर गहरे गड्ढे बन गए हैं।

किसी वाहन को बचाने के चक्कर में वाहन के सड़क से नीचे कच्चे में उतरने पर वाहनों के अनियंत्रित होने से दुर्गटना होने के अंदेशों से इंकार नहीं किया जा सकता है। उक्त मार्ग पर मंडावली थाना क्षेत्र के ग्राम मझाड़ी, मीरमपुर बेगा, मोहनपुर आदि के समीप राश्ट्रीय राजमार्ग के किनारे कई स्थानों पर बरसीती पानी के मिट्टी कटान करने से बने गहरे गड्ढें दिखायी दे रहे हैं। क्षेत्रीय ग्रामीणों बलराम सिंह, अमरपाल सिंह, मौहम्मद रमजान, फुरकान अहमद, शावेज अहमद, नीरज चौधरी, भूपेंद्र चौहान, अमित राठी, नरपाल सिंह, सतीश प्रजापति, कुलदीप आदि का कहना है कि इस गड्ढे को बने हुए कई माह बीत गए हैं।

जिसकी वजह से हाई-वे पर आने-जाने वाले दुपहिया आदि वाहनों के साथ कभी भी कोई दुर्घटना हो सकती है। कई बार मोटरसाइकिल सवार इसमें गिरकर घायल भी हो चुके हैं। अंधेरा होने पर इस गड्ढे का वाहन सवार को अंदाजा नहीं हो पाता है। जिसके चलते बड़े वाहन से बचाने के दौरान दुपहिया व छोटे वाहनों के टायर अक्सर गड्ढे में गिर पड़ते हैं।

जिससे कि बड़ा हादसा होने का अंदेशा बना रहता है। क्षेत्रीय ग्रामीणों ने एनएच के अधिकारियों तथा पीडब्ल्यूडी विभाग से इस तरह के गड्ढों का शीघ्र भरान कराकर समतल किए जाने की मांग की है। जिससे कि दुर्घटनाओं के अंदेशों पर विराम लग सके।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments