Wednesday, September 22, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसेना के जवान ने इंसास रायफल से गोली मारकर आत्महत्या की

सेना के जवान ने इंसास रायफल से गोली मारकर आत्महत्या की

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: आरवीसी सेंटर में डॉग ट्रेनर सेना के जवान ने गुरुवार को अपनी इंसास रायफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। जवान के आत्महत्या करने से आरवीसी सेंटर में हड़कंप मच गया और लालकुर्ती पुलिस को मामले की जानकारी दी। थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जवान के शव को कब्जे लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस जवान के आत्महत्या करने के मामले की जांच में जुटी हुई है।

उत्तराखंड के जिला उधमसिंह नगर के थाना काशीपुर के रहने वाले देवेंद्र सिंह पुत्र हरक सिंह लालकुर्ती थाना क्षेत्र के आरवीसी सेंटर में डॉग ट्रेनर थे। देवेंद्र 26 अप्रैल को अपने घर से छुट्टी काटकर वापस ड्यूटी पर आए थे, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते वह 14 दिन के लिए गुरुवचन एन्क्लेव में क्वारंटीन हो गए थे।

14 दिन तक क्वरंटीन रहने के बाद दो दिन पहले ही देवेंद्र अपनी ड्यूटी पर पहुंचे थे, लेकिन गुरुवार को दोपहर में देवेंद्र ने अपनी इंसास रायफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। देवेंद्र के गोली मारने के बाद साथी जवानों ने उन्हें सेना के अस्पताल में भर्ती कराया, जहां पर उन्हें चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद घटना की जानकारी लालकुर्ती थाना पुलिस को दी गई।

थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देवेंद्र के शव को अपने कब्जे में लेकर मोर्चरी को भेज दिया। वहीं, जांच इंचार्ज ब्रिजेश कुमार का कहना है कि फिलहाल देवेंद्र के आत्महत्या करने के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। उनके परिजनों के आने के बाद ही मामले के बारे में पता चल सकेगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मोदीपुरम: सेवानिवृत्त बीएसएफ के जवान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

पल्लवपुरम थाना क्षेत्र के एकता नगर में रहने वाले एक सेवानिवृत्त बीएसएफ के जवान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजन जवान को लेकर निजी चिकित्सक के यहां पहुंचे, परंतु चिकित्सक ने जवान को मृत घोषित कर दिया। वहीं, जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एकता नगर निवासी 60 वर्षीय राकेश सिंह बीएसएफ में कार्यरत थे।

परिवार के लोगों ने बताया कि वर्ष 2009 में राकेश सेवानिवृत्त हो गए थे। फिलहाल राकेश अंसल टॉउन में गार्ड की नौकरी करते थे। बुधवार को राकेश का अपनी पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। बृहस्पतिवार की सुबह राकेश की पत्नी कमरे में पहुंची और चाय पीने के लिए कहा, जिस पर राकेश ने थोड़ी देर में चाय पीने के लिए आने की बात कहीं। काफी देर तक भी जब राकेश बाहर नहीं आया तो पत्नी दोबारा कमरे में पहुंची।

कमरे में पहुंचने पर पत्नी ने राकेश का शव पंखे से लटका देखा तो उनके होश उड़ गए। महिला की चीख-पुकार सुनकर परिवार के लोग कमरे की ओर दौड़े। परिजनों ने आनन-फानन में शव को नीचे उतारा और निजी चिकित्सक के यहां राकेश को लेकर गए, लेकिन चिकित्सकों ने राकेश को मृत घोषित कर दिया।

घटना की जानकारी मिलने पर पल्लवपुरम पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थाना प्रभारी देवेश शर्मा ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है। परिजनों ने इस मामले में कोई तहरीर नहीं दी है।

दौराला: युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

थाना क्षेत्र में चार साल पहले टेम्पो के सफर से शुरू हुई एक प्रेम कहानी का बृहस्पतिवार को दर्दनाक अंत हो गया। बुधवार देर रात पति से झगड़े के बाद महिला ने बृहस्पतिवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दौराला थाना क्षेत्र के समौली गांव का रहने वाला सागर टेम्पो चालक है।

सागर का चार साल पहले गांव की रहने वाली सविता से टेम्पो में सफर करने के दौरान प्रेम प्रसंग हुआ, जिसके बाद दोनों ने परिजनों की मर्जी के खिलाफ जाकर प्रेम विवाह कर लिया। परिजनों की नाराजगी के कारण दोनों ने दौराला की दौलतराम कॉलोनी में देवेंद्र का मकान किराये पर ले लिया। वर्तमान में दंपति अपने दो बच्चों के साथ रह रहे थे। सागर अभी भी टेम्पो चलाकर परिवार का भरण पोषण कर रहा है।

बुधवार देर रात सागर और सविता में किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। झगड़े के दौरान दोनों की चिल्लाने की आवाज लोगों ने भी सुनी। बृहस्पतिवार की सुबह सागर प्रतिदिन की तरह अपना टेम्पो लेकर घर से चला गया। जिसके बाद सविता ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सविता का शव फंदे पर लटका देख लोगों ने सागर को सूचना दी। आनन-फानन में सागर घर पहुंचा और पुलिस को घटना की जानकारी दी।

सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने घटना की जानकारी ली और शव को नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला की मौत के बाद सागर व बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल था। थाना प्रभारी किरणपाल सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। शिकायती पत्र मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।


मेरठ: पत्थर लगाने के पैसे मांगने पर ठेकेदार की गोली मारकर हत्या

गंगानगर में थाने से चंद कदम की दूरी पर गुरुवार शाम को पत्थर लगाने के पैसे मांगने पर मकान मालिक ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से ठेकेदार की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ठेकेदार को गाड़ी में घिराकर ले गया और एक निजी अस्पताल के बाहर फेंककर फरार हो गया। इसके बाद ठेकेदार के परिजनों ने आरोपी के घर पर हमला बोल दिया। थाना इंस्पेक्टर ने किसी तरह लोगों को समझाकर मामला शांत कराया और जल्द ही हत्यारोपी को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया।

थाना इंचौली क्षेत्र के गांव मुजफ्फरनगर सैनी निवासी विपिन (35) पुत्र टीकम मकान में पत्थर लगाने का कार्य करता था। पिछले 20 दिन से विपिन मवाना रोड स्थित नेहरू नगर में पुनीत गर्ग के मकान में पत्थर लगा रहा था। पिछले कई दिन से विपिन मकान मालिक से अपने 80 हजार रुपयों के लिए तकादा कर रहा था। गुरुवार शाम को विपिन का पैसों को लेकर मकान मालिक से विवाद हो गया।

आरोप है कि मकान मालिक ने विपिन के साथ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए गाली-गलौज की और अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकालकर विपिन के सीने में गोली मार दी। जिससे विपिन खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़ा। इसके बाद आरोपी पुनीत गर्ग खून से लथपथ विपिन को अपनी गाड़ी में डालकर एक निजी अस्पताल ले गया और उसे अस्पताल के बाहर फेंककर फरार हो गया।

गोली चलने की आवाज से आसपास के लोगों में अफरा-तफरी मच गई। विपिन की मौत की जानकारी जब परिवार के लोगों को मिली तो परिवार के लोग ग्रामीणों के साथ मौके पर पहुंच और आरोपी के घर पर हमला बोल दिया। इसके बाद हंगामे की सूचना पर पहुंची सीओ सदर देहात पूनम सिरोही व इंस्पेक्टर ऋषिपाल सिंह ने किसी तरह पीड़ित परिवार को समझाकर मामला शांत कराया और शव का पंचनामा भरकर मोर्चरी को भेज दिया। इसके बाद मृतक के साथी विकास ने आरोपी पुनीत गर्ग को नामजद करते हुए गंगानगर थाने में तहरीर दी। वहीं, सीओ सदर देहात पूनम सिरोही का कहना है कि हत्यारोपी की गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच व थाना पुलिस की टीम लगाई गई है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके बाद हत्यारोपी का लाइसेंस निरस्त करने के लिए डीएम को रिपोर्ट भेजी जाएगी।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments