Home Uttar Pradesh News Shamli म्हाड़ी पर छड़ी में धागा बांधकर श्रद्धालुओं ने मांगी मनौतियां

म्हाड़ी पर छड़ी में धागा बांधकर श्रद्धालुओं ने मांगी मनौतियां

0
म्हाड़ी पर छड़ी में धागा बांधकर श्रद्धालुओं ने मांगी मनौतियां
  • शहर में धूमधाम से मनाई गई जाहरवीर गोगा चतुर्दशी

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: शहर के मौहल्ला रेलपार स्थित गुरु गोरखनाथ मंदिर में रविवार को गोगा चौदस धूमधाम से मनायी गई। इस अवसर पर भारी संख्या में महिलाओं व पुरुषों ने गोगा म्हाडी पर पहुंचकर छड़ी पर धागा बांधकर मनौतियां मांगी और सुख शांति एवं समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर विशाल भंडारे का भी आयोजन किया गया। जिसमें सैंकडों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण कर धर्मलाभ उठाया।

रविवार को शहर के मौहल्ला रेलपार स्थित गुरु गोरखनाथ मंदिर में गोगा चौदस का पर्व श्रद्धापूर्वक एवं उल्लास से मनाया गया। इस अवसर पर मंदिर में पूजा अर्चना का भी आयोजन किया गया जिसे पं़ विनोद शर्मा ने संपन्न कराया। भारी संख्या में महिलाओं व पुरुषों ने जाहरवीर गोगा छडी पर धागा बांधकर परिवार की सुख शांति एवं समृद्धि की कामना की।

मंदिर अध्यक्ष रामकुमार उपाध्याय ने बताया कि 23 अगस्त से लेकर 19 सितम्बर तक भाद्रपद माह में श्री जाहरवीर गोगा नवमी का पूर्व धूमधाम एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस अवसर पर मंदिरों में भी विशेष पूजा अर्चना की जाती है। जाहरवीर गोगा को दाल और प्याज का विशेष प्रसाद अर्पित किया जाता है। भारी संख्या में श्रद्धालु म्हाडी पर पहुंचकर परिवार की सुख समृद्धि की मन्नतें मांगते हैं।

रविवार को गोगा चौदस के मौके पर मंदिर में पूजा अर्चना के बाद भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें शहर के आसपास के गांवों के लोगों ने पहुंचकर प्रसाद ग्रहण किया। इस अवसर पर दुष्यंत, शिवकुमार, सतेन्द्र, सुनील गोहरनी, कैलाश, धर्मेन्द्र उपाध्याय, मनोज उपाध्याय, संजय उपाध्याय सहित भारी संख्या में महिलाएं, पुरुष एवं बच्चे भी मौजूद रहे।

पंरम्पराओं को बनाये रखना सनातन संस्कृति: भृुवंशी

रविवार को मौहल्ला रायजादान स्थित गोगा जाहरवीर माढी और गोरखनाथ मन्दिर पर प्रतिवर्ष की तरह प्राचीन पंरम्परानुसार भादो मास की चौदस पर गोगा जाहरवीर के विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राष्टÑीय ब्राह्मण युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भृगुवंशी आशुतोष पांडेय ने बाबा जाहरवीर के प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम व भंडारे का शुंभारम्भ किया।

उन्होंने कहा कि सनानत पंरम्परा में धार्मिक अनुष्ठानों का विशेष महत्व है। जिसे आज की युवा पीढ़ी भी सनातन संस्ति की पंरम्परा को बनाये रखने में पूरी तरह से समर्पित है। बाबा जाहरवीर की पूजा अर्चना करने के पश्चात भोग लगाकर भंड़ारे के प्रसाद का वितरण किया या। इस दौरान नितिन प ाशर, प्रमोद कुमार, प्रवीण शर्मा, ऱाबीर चौधरी, विशाल पाराशर, राज सिंह सैनी, सुरेंद्र कुमार, शुभम भार्गव रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Leave a Reply