Tuesday, January 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSकिसानों के कंधों पर बंदूक रख देश की एकता को दी जा...

किसानों के कंधों पर बंदूक रख देश की एकता को दी जा रही चुनौती: सीएम योगी

- Advertisement -
  • सीएम योगी का विपक्ष पर बड़ा हमला, बोले-किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर देश के खिलाफ षड्यंत्र बर्दाश्‍त नहीं, देश की सुरक्षा में सेंध लगाने का किया जा रहा है कार्य

जनवाणी ब्यूरो |

मेरठ: सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि विश्वविद्यालय की लाइब्रेरी के उद्घाटन व विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने किसानों की जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने किसान आंदोलन को समर्थन दे रहे विपक्ष पर जमकर निशाना साधा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोगों को किसानों के विकास से परेशानी हो रही है। इसलिए वे किसान आंदोलन के बहाने षडयंत्र रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों को ऐसे लोगों से सावधान रहने की आवश्यकता है। ये वे लोग हैं जो देश की प्रगति, गरीब का विकास और किसान सब सब की समृद्धि नहीं चाहते, वही लोग आज किसान आंदोलन के सहारे देश को अस्थिर करना चाह रहे हैं।

कृषि सुधार कानूनों को रद करने की मांग को लेकर चल रहे किसान आंदोलन के बीच उत्‍तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने विपक्ष पर बड़ा हमला बोला है। कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्‍यास करने मेरठ पहुंचे सीएम ने कहा कि कुछ लोग किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर देश की एकता और अखंडता को चुनौती दे रहे हैं। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्‍होंने कहा कि पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के विकास में किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी। कानून व्‍यवस्‍था को सरकार की सर्वोच्‍च प्राथमिकता बताते हुए सीएम ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश में हर हाल में बहन-बेटियों की सुरक्षा की जाएगी। सीएम ने मेरठ में कुल 88 परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्‍यास किया।

इस मौके पर उन्‍होंने मेरठ के परतापुर और मलियाना द्वितीय बिजली घरों का लोकार्पण भी किया। किठौर के शाहजहांपुर बिजलीघर का शिलान्यास भी सीएम के हाथों हुआ।

कृषि सुधार कानूनों को रद करने की मांग को लेकर चल रहे किसान आंदोलन के बीच उत्‍तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने विपक्ष पर बड़ा हमला बोला है। कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्‍यास करने मेरठ पहुंचे सीएम ने कहा कि कुछ लोग किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर देश की एकता और अखंडता को चुनौती दे रहे हैं। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

देश के खिलाफ किसी षड्यंत्र को सफल नहीं होने दिया जाएगा। अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए सीएम योगी ने विभिन्‍न क्षेत्रों में सरकार द्वारा किए जा रहे कामों का विस्‍तार से उल्‍लेख किया। उन्‍होंने कहा कि पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के विकास में किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी।

कानून व्‍यवस्‍था को सरकार की सर्वोच्‍च प्राथमिकता बताते हुए सीएम ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश में हर हाल में बहन-बेटियों की सुरक्षा की जाएगी। सीएम ने मेरठ में कुल 88 परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्‍यास किया। इस मौके पर उन्‍होंने मेरठ के परतापुर और मलियाना द्वितीय बिजली घरों का लोकार्पण भी किया। किठौर के शाहजहांपुर बिजलीघर का शिलान्यास भी सीएम के हाथों हुआ।

सीएम रविवार दोपहर करीब सवा एक बजे मेरठ के सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि विश्वविद्यालय पहुंचे। उन्‍होंने नवनिर्मित केंद्रीय पुस्तकालय के भवन का भी उद्घाटन किया। यहीं पर कई कृषि योजनाओं को शुरू करने के साथ ही कई विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण सीएम ने किया।

इसके बाद किसानों, छात्रों और शिक्षकों की जनसभा को भी संबोधित करते सीएम ने कहा कि किसानों को इस्‍तेमाल कर अपना हित साधने की कोशिशों को देश समझ रहा है। इन साजिशों को बेनकाब करते हुए असफल बनाया जाएगा।

किसानों के कंधों पर बंदूक रखकर भारत की एकता और अखंडता को चुनौती दी जा रही है। किसान भाईयों के कंधों पर बंदूक रखकर देश की सुरक्षा में सेंध लगाने का कार्य किया जा रहा है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज लोग इसलिए परेशान हैं क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को आगे ले जा रहे हैं। इसलिए षडयंत्र रच रहे हैं क्योंकि किसानों को आज गन्ना का भुगतान हो रहा है। किसानों के खाते में पैसा जा रहा है। किसानों के लिए फसल बीमा योजना के साथ कई कार्यक्रम आज चल रहे हैं। ये वही लोग हैं जो भारत से नफरत करते हैं और आज किसान आंदोलन की आड़ में एक बार फिर षडयंत्र रच रहे हैं।

कहा कि हमारी सरकार ने यहां गंग नहर के किनारे कांवड़ का एक अतिरिक्त लेन बनाने का निर्णय किया है और इसके लिए 600 करोड़ रुपये से अधिक की सहमति दी है। भारत सरकार के सहयोग से हम 32,000 करोड़ की लागत से मेट्रो का एक नया विकल्प RTTTS के नाम से मेरठ को दिल्ली के साथ जोड़ रहे हैं। ये इतनी बड़ी दूरी से जोड़ने का देश का पहला ऐसा कार्य है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश के प्रधानमंत्री का फोकस सिर्फ गरीब और किसान पर ही है। आज मोदी जी देश को आगे ले जा रहे हैं, लेकिन कुछ लोग इसलिए परेशान होकर साजिश रच रहे हैं क्योंकि कश्मीर से धारा 370 हट गई। अयोध्या में राम मंदिर का समाधान हो गया। किसानों के हक को हड़पने वाले बिचौलियों की कमाई बंद हो गई।

आज जिन्हें किसानों की प्रगति और विकास से आपत्ति है वे प्रदर्शन कर रहे हैं। आंदोलन के नाम पर किसानों को गुमराह कर रहे हैं। जो भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल हैं, उनकी रिहाई की मांग किसानों के कन्धों पर बंदूक रखकर की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश का किसान हमेशा से देश की प्रगति में अहम योगदान देता रहा है और आगे भी देता रहेगा। उन्होंने कहा कि किसी भी समस्या का समाधान संवाद से होता है संघर्ष से नहीं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments