Monday, April 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsलखनऊ / आस-पासउपमुख्यमंत्री ने ग्राम्य विकास विभाग के कार्यों में और अधिक तेजी लाने...

उपमुख्यमंत्री ने ग्राम्य विकास विभाग के कार्यों में और अधिक तेजी लाने के दिए निर्देश

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ग्राम्य विकास विभाग के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि ग्राम्य विकास विभाग के कार्यों में और अधिक तेजी लाई जाए। इसके लिए लगातार समीक्षा और अनुश्रवण किया जाय। फील्ड का भ्रमण कर जमीनी हकीकत को परखा जाय।

ठोस व प्रभावी रणनीति बनाते हुये पूरी टीम भावना से कार्य करते हुये विभाग द्वारा उत्कृष्ट परिणाम हासिल किये जाय। कहा कि ग्राम्य विकास विभाग की सभी योजनाओं के की केपीआई बनाई जाए और तदनुरूप मानीटरिग की जाय। सभी योजनाओं के प्रभारियों को टारगेट आवंटित किए जाए। ग्राम्य विकास विभाग हर 6 माह का रोडमैप तैयार करे और लक्ष्य से आगे बढ़कर परिणाम दें।

केशव प्रसाद मौर्य शुक्रवार को विधान भवन में कार्यालय में आयोजित उच्चस्तरीय बैठक में ग्राम्य विकास विभाग की योजनाओं के क्रियान्वयन व प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उप मुख्यमंत्री मौर्य ने निर्देश दिए कि गांव, गरीब के लिए चलाई जा रही योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में कोई कोर कसर बाकी न रखी जाए।

उन्होंने कहा कि महिला स्वावलंबन व सशक्तिकरण के लिए राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत संचालित योजनाओं पर विशेष रूप से फोकस करने के निर्देश दिए। कहा कि बीसी सखी, विद्युत सखी, महिला किसान परिवारों को कृषि आजीविका संवर्धन, महिला सामर्थ्य योजना, महिला मेटों को कार्य, मनरेगा में महिलाओं की सहभागिता, प्रेरणा ओजस, ग्रामीण आजीविका एक्सप्रेस योजना, प्रेरणा कैंटीन, स्वयं सहायता समूहों द्वारा पुष्टाहार वितरण, समूह सदस्यों द्वारा उचित दर की दुकानों का संचालन, सामुदायिक शौचालयों के प्रबंधन आदि महिला सशक्तिकरण के लिए चलाई जा रही योजनाओं पर विशेष रूप से फोकस किया जाए।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments