Wednesday, July 24, 2024
- Advertisement -
HomeDelhi NCRआज जंतर-मंतर पर किसान महापंचायत, दिल्ली पुलिस की अनुमति नहीं

आज जंतर-मंतर पर किसान महापंचायत, दिल्ली पुलिस की अनुमति नहीं

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: संयुक्त किसान मोर्चा ने आज जंतर-मंतर पर महापंचायत करने का एलान किया है। लेकिन दिल्ली पुलिस ने किसानों को जंतर-मंतर पर महापंचायत करने की अनुमति नहीं दी है। ऐसे में ये तय नहीं है कि किसानों का क्या रुख रहेगा। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि अनुमति नहीं देने की सूरत में किसानों को दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। हालांकि जो किसान नई दिल्ली में आ चुके हैं वह जंतर-मंतर जा सकते हैं। दिल्ली पुलिस किसानों के रुख को देखते हुए सुबह ही अपनी रणनीति तय करेगी।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारियों ने बताया कि किसानों ने महापंचायत के लिए अनुमति मांगी थी। नई दिल्ली जिला पुलिस ने जंतर-मंतर पर महापंचायत करने की अनुमति नहीं दी है। ऐसे में किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा। बॉर्डरों पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं। किसानों को प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। दिल्ली के अलावा नई दिल्ली के बॉर्डर को रविवार रात से ही सील कर दिया गया। किसानों को व उनके ट्रैक्टर-ट्रॉली और ट्रकों को नई दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। नई दिल्ली के सभी बॉर्डरों पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं। चेकिंग के बाद ही लोगों को दिल्ली में प्रवेश करने दिया जा रहा था। पूरी दिल्ली पुलिस को अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार कुछ किसान व किसान नेता नई दिल्ली में आ चुके हैं। ये गुरुद्वारे व धार्मिक स्थलों पर रूके हुए हैं। इन किसानों को जंतर-मंतर पर आने की अनुमति होगी। हालांकि तय सीमा से ज्यादा किसानों को जंतर-मंतर पर एकत्रित नहीं होने दिया जाएगा। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि किसानों का रुख स्पष्ट नहीं होने से दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की ओर से रविवार देर रात तक कोई स्पष्ट निर्देश नहीं आए थे।

किसान नेताओं ने महापंचायत के लिए ट्रैफिक पुलिस से अनुमति नहीं मांगी है। इसके बावजूद दिल्ली ट्रैफिक पुलिस को आशंका है कि काफी संख्या करीब चार से पांच हजार की संख्या में किसान जंतर-मंतर आ सकते हैं। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के नई दिल्ली जिले के डीसीपी आलाप पटेल ने बताया कि महापंचायत के चलते टॉलस्टॉय मार्ग, संसद मार्ग, बाहरी सर्किल कनॉट प्लेस से विंडसर प्लेस तक जनपथ, बाहरी सर्किल कनॉट प्लेस, अशोक रोड, बाबा खड़क सिंह मार्ग व पंडित पंत मार्ग पर ट्रैफिक सुबह 10 से लेकर देर शाम तक भारी रह सकता है। ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से आग्रह किया है कि या तो वह पहले ही अपनी यात्रा तय करे ले या फिर नई दिल्ली में आने से बचें।

जंतर मंतर पर सोमवार को संयुक्त किसान मोर्चा व अन्य किसान संगठनों के महापंचायत को देखते हुए पुलिस सतर्क हो गई है। पुलिस किसानों को बॉर्डर पर रोकने की कोशिश कर रही है। इसके लिए बाहरी जिला पुलिस ने टिकरी बॉर्डर पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। एसीपी के निगरानी में कई निरीक्षकों की टीम को तैनात कर दिया गया है। सीसीटीवी कैमरे से बार्डर की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। बॉर्डर के पास सड़क के किनारे बैरिकेड और कंक्रीट के ढांचे रखवाए गए हैं। ताकि जरुरत पड़ने पर उसे सड़क पर रखकर किसानों का रास्ता रोका जा सके। इसके लिए दिल्ली पुलिस ने क्रेन भी मंगवाई हैं।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यदि किसान बड़ी तादाद में बॉर्डर का रुख करेंगे तो इससे कानून व्यवस्था में दिक्कत होगी। इसके लिए उन्हें वहां रोका जाएगा। शनिवार रात और रविवार को किसान इस बॉर्डर से दिल्ली में प्रवेश करने की कोशिश की, जिन्हें पुलिस ने रोक दिया। बाहरी जिला पुलिस उपायुक्त समीर शर्मा ने बताया कि महापंचायत को देखते हुए बड़ी संख्या में किसान दिल्ली आने की कोशिश करेंगे। संभावना है कि किसान दिल्ली में प्रवेश के लिए टीकरी और सिघु बॉर्डर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

पुलिस ने किसानों के दिल्ली आने की संभावना को देखते हुए बॉर्डर के अलावा रोहतक रोड, रेलवे लाइन और मेट्रो स्टेशन के आस पास पुलिस बल को तैनात कर दिया है। बार्डर के पास बेरिकेड और कंक्रीट के ढांचे रखवाए गए है। कंक्रीट के ढांचे रखवाने के लिए क्रेन का भी इंतजाम किया गया है। सोमवार को बॉर्डर पर करीब दो सौ से अधिक पुलिस व अर्धसैनिक बल के जवान को तैनात किया जाएगा। निरीक्षक स्तर के चार अधिकारी एसीपी के निगरानी में यहां के हालात पर नजर रखेंगे। इसके साथ ही जिले के पुलिस उपायुक्त भी बॉर्डर की गतिविधियों पर नजर रखेंगे। इसी तरह से दिल्ली के अन्य बॉर्डर गाजीपुर, महाराजपुर, अप्सरा बॉर्डर, चिल्ला और भोपुरा बॉर्डर पर भी निगरानी बढ़ा दी गई है।

दिल्ली पुलिस के अधिकारी ने बताया कि सोमवार को बॉर्डर पर यातायात सामान्य रहेगा। लेकिन पुलिस को इस बात की जानकारी मिलती है कि किसान महापंचायत में शामिल होने के लिए बॉर्डर का इस्तेमाल कर रहे है तो उसे रोका जा सकता है। हालात को देखते हुए बॉर्डर से गुजर रहे वाहनों का मार्ग परिवर्तित किया जा सकता है। पुलिस आपातस्थिति को देखते हुए यातायात के वैकल्पिक योजना भी तैयार कर रखी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments