Friday, January 27, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutआयकर विभाग से 84 करोड़ लेगा एमडीए

आयकर विभाग से 84 करोड़ लेगा एमडीए

- Advertisement -
  • हाईकोर्ट में याचिका दायर करेगा प्राधिकरण

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: आयकर विभाग से एमडीए 82 करोड़ रुपये लेगा। इसके लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की जाएगी। यह जानकारी एमडीए उपाध्यक्ष अभिषेक पांडेय ने दी। उन्होंने बताया कि आयकर विभाग ने अलग-अलग समय पर अब तक कुल 84 करोड़ रुपये मेरठ विकास प्राधिकरण (एमडीए) से लिए हैं, लेकिन इस राशि को वापस नहीं किया। दरअसल, एमडीए से जो रुपये आयकर विभाग ने लिये हैं, वो नियमानुसार नहीं लिये जा सकते। इसी वजह से वापस लेने के लिए एमडीए हाईकोर्ट की शरण में गया हैं, जिसके लिए उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की जाएगी।

एमडीए स्वायत्त निकाय है, जोकि अर्द्ध सरकारी पद्धति से कार्य करता है। इसे ‘नो प्राफिट-नो लास’ सिद्धांत पर कार्य करने वाली श्रेणी के संस्थान में रखा गया है। ऐसे में इससे आयकर नहीं लिया जा सकता है, लेकिन एमडीए से आयकर विभाग ने आयकर लिया हैं, जो गलत हैं। मकान बेचने पर आयकर के रूप में एमडीए से 84 करोड़ रुपये लिये गए हैं, जिसके खिलाफ ही एमडीए हाईकोर्ट में याचिका दायर कर रहा हैं। एमडीए अपने प्लाट व फ्लैट बेचकर जो भी धन हासिल करता है या फिर अन्य तरह के शुल्क हासिल करता है।

इसके बाद भी इस संस्थान से आयकर नहीं लिया जा सकता। एमडीए अब तक आयकर देता रहा है, लेकिन अब नये एमडीए उपाध्यक्ष अभिषेक पांडेय ने इस पर आपत्ति जता दी हैं। उन्होंने प्राधिकरण के गठन के नियमों का अध्ययन करते हुए विभिन्न स्तरों से जानकारी एकत्र की। एमडीए वीसी ने बताया कि आयकर विभाग ने यह स्वीकार कर लिया है कि एमडीए से आयकर नहीं लेना चाहिए था। इस राशि को वापस लेने के लिए एमडीए उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करेगा तथा 84 करोड़ रुपये की बड़ी धनराशि वापस ली जाएगी।

वेदव्यासपुरी में बनेगा क्रांति मेमोरियल पार्क

एमडीए क्रांति थीम पार्क को भव्यता देने के लिए एमडीए की वेदव्यासपुरी योजना में क्रांति मेमोरियल पार्क बनायेगा। इसकी योजना तैयार की जा रही हैं। यह जानकारी प्राधिकरण उपाध्यक्ष अभिषेक पांडेय ने दी। उन्होंने बताया कि शहर के विकास में यह मील का पत्थर साबित होगा। यह अपने आप में अलग तरह का पार्क विकसित किया जाएगा। इस दिशा में एमडीए की एक टीम काम कर रही हैं।

एमडीए ने इस पार्क को क्रांति थीम पार्क के रूप में विकसित करने के लिए कई साल पहले बोर्ड बैठक में प्रस्ताव स्वीकृत किया था, लेकिन उसके बाद कार्य नहीं हो सका। शासन स्तर पर भी क्रांति पार्क की योजना तैयार कर भेजी गयी, लेकिन शासन स्तर से भी इसमें कोई स्वीकृति नहीं मिली। अब प्राधिकरण उपाध्यक्ष अभिषेक पांडेय ने इसे फिर से क्रांति थीम पार्क को वार मेमोरियल की तरह भव्यता देने के लिए क्रांति मेमोरियल पार्क बनाया जाएगा।

इसकी दिशा में काम आरंभ कर दिया गया हैं। वैसे इस पार्क को नया रूप देने के लिए कई बार योजनाएं बनीं, लेकिन कभी भी वह धरातल पर नहीं उतर सका। वेदव्यासपुरी स्थित जोनल पार्क का क्षेत्रफल 62 हजार वर्ग मीटर है। 2013 में एमडीए ने 5.87 लाख रुपये से इसे विकसित किया था। इसमें बोटिंग के लिए वाटर बाडी, कैंटीन, फव्वारा, बच्चों के खेलने की जगह, बच्चों के खेलकूद के सामान, ब्रिज, प्रतिमाएं, बेंच व हाईमास्ट लाइट आदि विकसित किया गया था।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments