Wednesday, December 1, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutग्रामीण क्षेत्रों में कब सुधरेगा नेटवर्क

ग्रामीण क्षेत्रों में कब सुधरेगा नेटवर्क

- Advertisement -
  • नेटवर्क में आ रही परेशानियों के कारण नहीं मिलता फोन

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डिजिटल भारत की बात करते हैं और डिजिटल भारत बनाने के लिए तीव्र गति से कार्य भी कर रहे हैं, लेकिन नेटवर्क कंपनियों के हालात इतने बुरे हैं कि ग्रामीण क्षेत्रों में नेटवर्क न के बराबर ही आते हैं। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। हालात यह हैं कि मोबाइल पर बात करते समय नेटवर्क की परेशानी के कारण कई बार कॉल तक नहीं मिल पाती। कई बार फोन करने के पश्चात ही फोन लग पाते हैं।

फोर-जी तो छोड़ो टू-जी तक की नहीं स्पीड

आज के दौर में डिजिटल बैंकिंग एक प्रमुख केंद्र बनता जा रहा है। जिसमें कि ज्यादा से ज्यादा लोग डिजिटल बैंकिंग का सहारा लेकर ही अपना कार्य करना चाहते हैं, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल बैंकिंग एक सपना सा ही नजर आता है। क्योंकि नेट की स्पीड ना होने के कारण कई बार दिक्कतों का सामना होता है और नेट बैंकिंग का उपयोग नहीं कर पाते। हालात यह है कि फोर-जी तो छोड़ो टू-जी की स्पीड नहीं आती। वह नेट की स्पीड बढ़ाने के लिए ऊंचाइयों के कोने को ढूंढते हैं कि कहीं तो नेटवर्क आए और नेट चल पाए, लेकिन नेट की कनेक्टिविटी उस प्रकार नहीं है।

ग्रामीण क्षेत्रों में भी लगे टावर, तभी सुधरेगी व्यवस्था

ग्रामीण क्षेत्र में कनेक्टिविटी नहीं होने का प्रमुख कारण यह भी है कि दूरसंचार कंपनियों द्वारा मोबाइल के टावर नहीं लगाए गए हैं। अगर ग्रामीण क्षेत्रों में भी शहरी क्षेत्रों की तरह टावर लगाए जाए तो ग्रामीण क्षेत्रों में आ रही परेशानियां भी दूर होगी। इंडिया का सपना भी साकार होगा। क्योंकि जब तक ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल इंडिया के अंतर्गत काम नहीं हो तब तक डिजिटल इंडिया का सपना सिर्फ अधूरा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments