Wednesday, January 19, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsआज ​होगा न्यू अर्बन इंडिया कार्यक्रम का उद्घाटन

आज ​होगा न्यू अर्बन इंडिया कार्यक्रम का उद्घाटन

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में सरकार द्वारा मनाए जा रहे ‘अमृत महोत्सव’ के तहत केन्द्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय और प्रदेश नगर विकास विभाग द्वारा ‘न्यू अरबन इंडिया’ थीम पर आयोजित तीन दिवसीय कार्यक्रम का मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उद्घाटन करेंगे।

इसे देखते हुए केन्द्रीय शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव दुर्गाशंकर मिश्रा और अपर मुख्य सचिव डॉ. रजनीश दूबे समेत अन्य अधिकारियों ने कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया।

अधिकारियों ने कार्यक्रम स्थल पर सेन्ट्रल पवेलियन एवं स्टेट पवेलियन के अन्तर्गत नगरीय विकास परियोजनाओं एवं और स्मार्ट सिटी मिशन को प्रदर्शित करने के लिए लगाए जा रहे स्टालों के अलावा उप्र मेट्रो रेल कार्पोरेशन, अमृत मिशन, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, स्वच्छ भारत मिशन (शहरी). फेवो रोबोटिक्स, स्थानीय निकाय निदेशालय राजस्थान व उड़ीसा, क्षेत्रीय परिवहन, प्लास्टिक यूज से बनने वाली सड़कें, स्मार्ट सिटी, ओडीओपी, मुख्यमंत्री नगरीय अल्पविकसित एवं मलिन बस्ती विकास योजना से संबंधित तैयार किये जा रहे स्टालों का भी निरीक्षण किया गया ।

निरीक्षण के दौरान केन्द्रीय सचिव ने निर्देश दिया कि स्टालों को इस तरह से तैयार किया जाए कि स्टालों को देखने वालों को किसी भी प्रकार कि असुविधा न हो।

साथ ही आने व जाने रास्ते में भी किसी प्रकार का अवरोध न हो। उन्होंने कहा कि स्टालों में आधुनिक तकनीकों का इस तरह से प्रदर्शन किया जाए कि दर्शकों को यह बात आसानी से समझ में आ जाए आधुनिक भार में यूपी के शहरों में विकास में व्यापक बदलाव हुआ है।

अपर मुख्य सचिव नगर विकास विभाग डा. रजनीश दुबे ने बताया कि 75 उत्कृष्ट हाउसिंग तकनीकों को प्रदर्शित करने वाले स्टाल लगाये जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय, ओलंपिक एवं अन्तर्राष्ट्रीय मानको पर आधारित स्पोर्टस कांपलेक्स गोरखपुर के रामगढ़ताल झील में तैयार किया जा रहा है, जो कि अपनी तरह का देश का पहला स्पोर्टस कांपलेक्स होगा। इसमें राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की स्पोर्टस प्रतियोगिता आयोजित की जायगी।

उन्होने फेवो रोबोटिंग स्टाल के संबंध में बताया कि इस तकनीक की मदद से निर्माण कार्यो को करने में आसानी होगी तथा लेबर कॉस्ट में भी कमी आयेगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments