Wednesday, December 1, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamli5-5 हजार रुपये नहीं देने पर बोर्ड को कम नंबर भेजे!

5-5 हजार रुपये नहीं देने पर बोर्ड को कम नंबर भेजे!

- Advertisement -
  • छात्राओं ने सेंट आरसी झिंझाना के प्रबंधन पर लगाए आरोप

जनवाणी संवाददाता |

झिंझाना: मंगलवार को मेरठ-करनाल हाईवे पर स्थित सेंट आरसी स्कूल की इंटर की छात्रा शिवानी कश्यप पुत्री रामकुमार कश्यप निवासी मौहल्ला कानूनगोयान व तापसी पंवार पुत्री नोबिल पंवार निवासी होशंगपुर झिंझाना ने जिलाधिकारी जसजीत कौर से शिकायत करते हुए बताया कि सेंट आरसी स्कूल ने छात्र-छात्राओं से पांच-पांच हजार रुपये वसूल कर भ्रष्टाचार फैला रहे हैं।

छात्राओं ने शिकायत करते हुए बताया कि इस बार कोराना काल के चलते विद्यालय में परीक्षा नहीं होने पर 10-11 वीं के नम्बर के अनुसार ही बोर्ड द्वारा रिजल्ट घोषित किया गया है। विद्यालय स्तर से 10-11 वीं के नम्बर बोर्ड द्वारा मांगे गये थे, लेकिन सेंट आरसी स्कूल के प्रबंधक व प्रधानाचार्य ने अनैतिक लाभ कमाने के लिए छात्र-छात्राओं से खुलेआम पांच-पांच हजार रुपये बतौर रिश्वत की मांग की थी।

जिन अभिभावकों ने रिश्वत के पांच हजार रुपये देने से मना कर दिया था उन्हीं छात्र-छात्राओं के मार्क्स विद्यालय से कम करके बोर्ड को भेजे गए हैं। विद्यालय से छात्राओं को 11 वीं कक्षा के रिजल्ट भी प्राप्त नही हुए हैं। जिसमें छात्रा शिवानी के हाईस्कूल के नम्बर 87 प्रतिशत हैं व तापशी पंवार के 75 प्रतिशत हैं। वहीं बोर्ड द्वारा घोषित इंटर के परिणाम में शिवानी कश्यप 68़ 8 प्रतिशत व तापशी पंवार के 68 प्रतिशत नम्बर आये हैं। जिससे छात्राए संतुष्ट नहीं है। इसका आरोप स्कूल के प्रधानाचार्य व प्रबंधक पर लगाया है।

दूसरी ओर, सेंट आरसी स्कूल के प्रधानाचार्य अरविंद खेवाल ने बताया छात्राओं द्वारा लगाया गया रुपये लेने का आरोप निराधार है। बोर्ड के नियमानुसार ही छात्र-छात्राओं के नम्बर बोर्ड को भेजे गये थे। उसी के अनुसार इंटर बोर्ड का रिजल्ट घोषित हुआ है। वहीं बोर्ड का यह भी आदेश है कि जो छात्र-छात्राए बोर्ड द्वारा घोषित रिजल्ट से संतुष्ट नहीं है, वे दोबारा परीक्षा दे सकते हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments