Wednesday, September 22, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMuzaffarnagarसिंचाई विभाग के कर्मचारी का शव मिलने से सनसनी फैली

सिंचाई विभाग के कर्मचारी का शव मिलने से सनसनी फैली

- Advertisement -
  • शव का पोस्टमार्टम न कराने को लेकर परिजनों की पुलिस से हुई नोक झोंक

जनवाणी सवांददाता |

खतौली: बुधवार को कोतवाली के ताजपुर गांव के जंगलों में सिंचाई विभाग के एक कर्मचारी का शव मिलने से ग्रामीणों में सनसनी फैल गई। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुचीं कोतवाली पुलिस ने कर्मचारी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

वही मृतक का पोस्टमार्टम न कराने को लेकर कोतवाल और परिजनों के बीच नोक झोक हुई। जिसके बाद ग्रामीणों ने मामला शांत किया। उधर कर्मचारी की मौत से उसके परिजनों में कोहराम मचा हुआ था। कोतवाल ने बताया कि मृतक कर्मचारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले में अग्रिम कार्यवाही की जायेगी।

बुधवार सुबह कोतवाली क्षेत्र के गांव ताजपुर के जंगल मे एक युवक का शव मिलने से ग्रामीणों में सनसनी फैल गयी। जंगल मे शव मिलने की सूचना के बाद मौके पर पहुचें दर्जनों ग्रामीणो ने मृतक युवक की पहचान करने का प्रयास किया। जहॉ गांव के ही कुछ ग्रामीणों ने मृतक युवक की पहचान गांव ताजपुर के ही राजकुमार ठेकेदार के पुत्र कमल सैनी के रूप में की जो हाल निवासी खतौली के मोहल्ला सैनी नगर रह रहा था।

कमल के शव मिलने की सूचना पर मौके पहुचें परिजनों में कमल के शव को देख कोहराम मच गया। उधर घटना की सूचना के बाद गांव पहुचें सीओ राकेश कुमार और कोतवाल यशपाल सिंह ने युवक के शव की जांच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया था। पुलिस ने मृतक युवक के सम्बंध में उसके परिजनों से पूछताछ की, ग्रामीणो ने बताया कि उक्त मृतक युवक जंगल मे खड़े एक पाइप पकड़ कर परेशान हालत में खड़ा था।

जिसे देख ग्रामीण युवक से पूछताछ कर आगे चले गये। जब कुछ समय बाद ग्रामीण वापस गांव लौटे तो कमल खेत के पास नाली में अचेत अवस्था में पड़ा हुआ था। ग्रामीणों ने उसे उठाने का प्रयास किया मगर युवक की मौत हो चुकी थी। जिसके बाद ग्रामीणों ने उसकी पहचान कर कोतवाली पुलिस और उसके परिजनों को घटना की सूचना दी। वही परिजनों का कहना था कि कमल खतौली सिंचाई विभाग में तैनात था।

कई सालों से कमल बीमार चल रहा था जिसे मिर्गी के दौरे पड़ते थे। परिजनों ने पुलिस से युवक का पोस्टमार्टम न कराने की मांग की वही पुलिस परिजनों से शव का पोस्टमार्टम कराने की बात पर अड़ी रही। शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजने के बाद परिजन और ग्राम प्रधान अन्य ग्रामीणों के साथ कोतवाली पहुचें जहॉ कोतवाल यशपाल सिंह और ग्राम प्रधान के बीच शव का पोस्टमार्ट न कराने को लेकर जमकर नोक झोक हुई।

कोतवाल ने परिजनों को समझाकर उन्हें शांत किया, घण्टो नोक झोक के बाद परिजन मृतक युवक के शव का पोस्टमार्टम कराने पर राजी हो गये। कमल की मौत के बाद उसके परिजनों में कोहराम मचा हुआ था। और गांव में शोक की लहर बनी हुई थी। कोतवाल ने बताया कि मृतक युवक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर मामले में अग्रिम कार्यवाही की जायेगी।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments