Tuesday, December 7, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliशामली की चीनी मिलों पर 396 करोड़ बकाया

शामली की चीनी मिलों पर 396 करोड़ बकाया

- Advertisement -
  • डीएम ने की अवशेष गन्ना मूल्य भुगतान की समीक्षा
  • शीघ्र भुगतान और समय से पेराई सत्र प्रारंभ के निर्देश

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: शुक्रवार को जिलाधिकारी जसजीत कौर ने जनपद की तीनों चीनी मिल शामली, ऊन एवं थानाभवन की अवशेष गन्ना मूल्य भुगतान एवं आगामी पेराई सत्र 2021-22 के संचालन पर की समीक्षा की। बैठक में जिला गन्ना अधिकारी विजय बहादुर सिंह ने बताया कि शामली चीनी मिल ने पेराई सत्र 2020-21 में 113.20 लाख कुंतल गन्ना क्रय किया। जिसका 366.46 करोड़ रुपये चीनी मिल पर देय था जिसमें से 249.25 करोड़ रुपये का गन्ना भुगतान किया।

वर्तमान में शामली चीनी पर 117.21 करोड़ रुपये बकाया है। इस तरह से शामली ने अब तक 68.01 प्रतिशत भुगतान किया है। दूसरी ओर, ऊन चीनी मिल ने 105.12 लाख कुंतल गन्ना क्रय किया। जिसका 337.10 करोड़ रुपये मिल पर किसानों का देय निकाला। इसमें से चीनी मिल ने 249.67 करोड़ रुपये का भुगतान किया।

वर्तमान में चीनी मिल पर 87.44 करोड़ रुपये बकाया है। इस तरह से 74.06 भुगतान कर ऊन मिल सबसे आगे है। उधर, बजाज ग्रुप की थानाभवन चीनी मिल ने पेराई सत्र 2020-21 में 136.82 लाख कुंतल गन्ने की पेराई की। जिसका 439.40 करोड़ रुपये देय चीनी मिल पर था। इसमें से चीनी मिल ने 247.88 रुपये का भुगतान किया। वर्तमान में चीनी मिल पर 191.51 करोड़ रुपये बकाया है।

भुगतान की स्थिति में थानाभवन चीनी मिल 56.41 प्रतिशत भुगतान के साथ सबसे पीछे चल रही है। जहां तक जनपद की तीनों चीनी मिल की पेराई सत्र 2020-21 की स्थिति का सवाल है तो 355.14 लाख कुंतल गन्ने की पेराई कर चीनी मिलों पर किसानों का 1142.96 करोड़ रुपये देय था। इसमें से 746.80 करोड़ का भुगतान शुक्रवार तक किया गया। वर्तमान में चीनी मिलों पर 396.16 करोड़ रुपये बकाया है। इस तरह से जनपद की तीनों चीनी मिलों ने 65.34 प्रतिशत ही भुगतान किया है।

जिलाधिकारी जसजीत कौर ने पेराई सत्र 2020-21 के गन्ना मूल्य भुगतान के संबंध में चीनी मिलों के प्रतिनिधियों को तत्काल भुगतान सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही, चेतावनी दी कि भुगतान न करने की स्थिति में चीनी मिलों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।

जिलाधिकारी ने पेराई सत्र 2021-22 को समय से प्रारंभ करने के भी निर्देश दिए। बैठक में जिला गन्ना अधिकारी विजय बहादुर सिंह, शामली चीनी मिल के गन्ना महाप्रबंधक डा. कुलदीप पिलानिया, थानाभवन मिल के गन्ना महाप्रबंधक जेबी तोमर व एकाउंट हैड विजित जैन तथा सुभाष बहुगुणा, ऊन चीनी मिल के गन्ना महाप्रबंधक अनिल कुमार अहलावत आदि ने उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments