Tuesday, October 19, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसंक्रमणों का आंकड़ा 17000 के पार, 188 नए केस, 365 की अब...

संक्रमणों का आंकड़ा 17000 के पार, 188 नए केस, 365 की अब तक मौत

- Advertisement -
  • जवाहर आई हॉस्पिटल में मिले तीन केस, मेडिकल कैंपस ब्वॉज हॉस्टल में संक्रमण के दो केस

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोरोना संक्रमितों की संख्या 17000 का आंकड़ा पार कर गयी है। संक्रमण के चलते अब तक 365 की उपचार के दौरान मौत भी हो चुकी है। गुरुवार को संक्रमण के 188 नए केस मिले हैं। वहीं, तीन संक्रमितों ने इलाज के दौरान दम भी तोड़ दिया।

सीएमओ डा. अखिलेश मोहन की ओर से जारी किए गए अपडेट में कोरोना के 188 नए केस तथा तीन की मौत की जानकारी दी गयी है। संक्रमितों में कैदी, कारोबारी, फौजी, शिक्षक, हेल्थ केयर वर्कर, छात्र, मजदूर, घरेलू कामकाजी महिलाएं भी शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि टेस्ट बढ़ाए जाने की वजह से ही संक्रमितों की संख्या में उछाल नजर आता है। अन्यथा यहां हालात पूरी तरह से काबू में हैं।

लोगों से कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किए जाने का आग्रह किया गया है। आज भी संक्रमितों में बड़ी संख्या में ऐसे केस हैं जो संक्रमण की चेन से जुडे हैं। इसके अलावा एक ही परिवार में एक से ज्यादा सदस्यों के संक्रमित मिलने का भी सिलसिला बना हुआ है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के अफसर हालात पर काबू पाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं, लेकिन संक्रमण के नए केस जो किसी चेन से नहीं जुडे हैं, सिरदर्द बने हुए हैं। ऐसे केसों के कांटेक्ट टेÑसिंग पर भी नजर रखी जा रही है।

आरजी में मिले तीन पॉजिटिव

शहर के सभी कॉलेज खुल चुके हैं। गुरुवार को आरजी पीजी कॉलेज में कोरोना के टेस्ट कराए गए। जिसमें तीन केस पॉजिटिव पाए जाने के बाद कॉलेज परिसर में हड़कंप मच गया। बता दें कि जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है।

उसके बाद कॉलेज भी खुल चुके हैं, लेकिन कॉलेजों में भी पब्लिक स्कूलों की भांति केवल 5 से 10 प्रतिशत छात्र-छात्राएं ही आ रहे हैं, वहीं कॉलेजों में भी कोरोना के मरीज मिलने अफरा-तफरी का माहौल है। बता दें कि प्रशासन स्तर पर प्रतिदिन अलग-अलग स्थानों पर कोरोना के टेस्ट कराए जा रहे हैं।

प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों पर ड्रोन से नजर

सड़क पर कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों पर अब पुलिस की आसमानी निगाह है। यानी जो सड़क पर मास्क नहीं पहन के निकलेगा उसका पुलिस चालान कर सकती है। ड्रोन कैमरे की मदद से पुलिस ऐसे लोगों की तस्वीरें ले रही है जो सड़क पर लापरवाही बरत रहे हैं और जानबूझकर कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन कर रहे हैं। तस्वीरें मेरठ की हापुड़ प्रदीप चिन्योटी, सचिव, जिला हॉकी संघा चौराहे की है।

मेरठ का हापुड अड्डा शहर का सबसे व्यस्ततम चौराहा है। इस चौराहे से सटे भगत सिंह मार्केट पैंठ एरिया है। यहां पर लोगों की भीड़ देखकर कोरोना के कम्युनिटी स्प्रेड का खतरा हमेशा बना रहता है, लेकिन मेरठ पुलिस में आज इस इलाके में ड्रोन से कानून का उल्लंघन करने वालों की तस्वीरें अपने कैमरे में कैद कर ली।

जिसके बाद ऐसे लोगों को चिह्नित कर मौके पर चालान भी किया गया। खुद सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने ड्रोन कैमरे की मदद से सड़क पर कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया। कैमरे को देख लोगों ने खुद ब खुद मास्क लगाया।

कुछ ने मुंह पर कपड़ा ढक लिया तो कुछ ने चेहरे छुपाने शुरू कर दिए, लेकिन उसके बावजूद कुछ लोग ऐसे नजर आए जो पुलिस को देखने के बावजूद कानून का पालन करने से गुरेज बरत रहे थे। पुलिस ने ऐसे कई लोगों का मौके पर ही चालान कर डाला। पुलिस अधिकारियों की मानें तो सख्ती के बावजूद कुछ लोग सुधरने को तैयार नहीं हैं। पुलिस की सख्ती और कोरोना के खतरे से भी ऐसे लोगों को डर नहीं लगता।

दादरी में युवक निकला कोरोना पॉजिटिव

क्षेत्र में कोरोना केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। गुरुवार को दादरी गांव का एक युवक कोरोना पॉजिटिव निकला। दो दिन पूर्व उसका सैंपल जांच के लिए लैब भेजा गया था। जांच रिपोर्ट आने के बाद पता चला कि युवक संक्रमित है। वहीं, स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुल 205 लोगों की जांच कराई गई।

सरधना क्षेत्र में रोजाना हो रही जांच में नए केस सामने आ रहे हैं। रोजाना कोरोना का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जिससे स्वास्थ्य विभाग की भी चिंता बढ़ी हुई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बड़े स्तर पर जांच कराई जा रही है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग ने 205 लोगों की जांच कराई।

अच्छी बात यह रही कि जांच में सभी लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। दो दिन पूर्व जांच के लिए लैब भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद पता चला कि दादरी गांव का एक युवक कोरोना पॉजिटिव है। रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने युवक को आइसोलेट कर दिया। साथ ही उसके परिवार को भी होम क्वारंटाइन कर दिया गया। इस संबंध में कार्यवाहक सीएचसी प्रभारी डा. अमित कुमार का कहना है कि 205 लोगों की जांच कराई गई थी। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आरटीपीसीआर में दादरी में एक केस सामने आया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments