Tuesday, January 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliअनियंत्रित ट्रक से कुचलकर बाइक सवार मां-बेटे की मौत

अनियंत्रित ट्रक से कुचलकर बाइक सवार मां-बेटे की मौत

- Advertisement -
  • सरधना से देवर के साथ बच्चे की दवाई लेने आई थी महिला

जनवाणी संवाददाता |

शामली: मेरठ-करनाल हाइवे पर शहर में बुढ़ाना रोड पर अनियंत्रित ट्रक से कुचलकर बाइक सवार महिला और उसके पांच साल के मासूम बच्चे की मौत हो गई। जबकि मृतका का देवर चोटिल हो गया। देवर-भाभी मासूम बच्चे की दवाई लेने शामली आए और वापस लौटते समय हादसा हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को सूचना देते हुए शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। वहीं पुलिस ने ट्रक कब्जे में ले लिया है।

मेरठ के सरधना कस्बे के मोहल्ला आजादनगर निवासी दानिश (28) पुत्र मंजूर गुरुवार को अपनी भाभी सलमा (25) पत्नी जावेद और भतीजे शायान (5) को बाइक पर सवार होकर सरधना से शामली आए थे। बच्चे शायान का शामली में दिल्ली रोड स्थित एक चिकित्सक के यहां उपचार चल रहा है देवर-भाभी बच्चे की दवाई लेने आए थे।

डाक्टर के यहां से दवाई लेने के बाद बाइक सवार वापस सरधना लौट रहे थे। जैसे ही वह शामली में बुढाना रोड पर डा. डीपी गुप्ता के नर्सिंग होम के सामने पहुंचे तो ओवरटेक करते समय अनियंत्रित ट्रक ने साइड मार दी जिसमें बाइक सवार गिर गया और महिला सलमा व बच्चा शायान ट्रक से कुचल गए जिसमें दोनों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। वहीं दाशिन चोटिल हो गया। दुर्घटना के बाद आरोपी चालक ट्रक को वहीं छोड़कर फरार हो गया। सड़क हादसे में मौत के बाद बुढ़ाना रोड पर जाम लग गया वहीं लोगों की भीड़ जमा हो गई।

सूचना पर सीओ सिटी प्रदीप सिंह, थाना प्रभारी सतपाल सिंह मय पुलिस बल के पहुंचे तथा परिजनों को सूचना दी। पुलिस ने घायल दानिश को अस्पताल में भर्ती कराया और शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। वहीं पुलिस ने ट्रक को कब्जे में ले लिया है। इस मामले में दानिश के मामा नफीस निवासी गांव झाल ने अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है।

मृतका के हाथ छूटकर खाना भी सड़क पर बिखरा

दानिश ने रोते बिलखते हुए बताया कि वह सुबह दवाई लेने शामली पहुंचे थे डाक्टर के यहां देर न हो जाए इसलिए खाना भी साथ लाए थे। दवाई लेने के दौरान समय नहीं लग सका। दाशिन ने रोते हुए बताया कि शामली शहर से निकलकर कहीं रुककर वह अपनी भाभी व भतीजे को खाना खिलाने वाला था लेकिन ट्रक ने उन्हें कुचलकर जान ले ली।

बुढ़ाना रोड पर अनिक्रमण से चली गई जान

मेरठ-करनाल हाइवे पर शहर का बुढ़ाना रोड सबसे व्यस्ततम और संकरा रोड है। इसके अलावा विजय सिनेमा से लेकर बुढ़ाना रोड रेलवे फाटक तक दोनों तरफ अतिक्रमण से रोड और भी संकरा हो जाता है। बुढ़ाना रोड पर डा. डीपी गुप्ता के सामने जहां ट्रक से दुर्घटना हुई वहां एक तरफ चिकित्सक के यहां आने वाले लोगों के वाहन खड़े हो जाते हैं जबकि सड़क के दूसरी तरफ एंबुलेंस, डग्गामार वाहन व ई-रिक्शा खड़ी रहती है। जिसकी वजह से रोड बहुत संकरा हो जाता है और दुर्घटना की हमेशा यहां आशंका बनी रहती है। बुढ़ाना से आने व जाने वाली बसें व डाग्गामार वाहन भी यहीं आकर रुकते व चलते हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments